यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शियों की इफ्तार पार्टी से परहेज करें सुन्नी, शादी दावत भी खाने से बचें: दारुल उलूम


🗒 मंगलवार, जून 05 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 शिया और सुन्नी समाज में विचारों को लेकर मतभेद की खबरें अक्सर सुनने को मिलती हैं। अब दारुल उलूम देवबंद ने अपने ताजा फतवे के जरिए इस मतभेद को और भी हवा दे दी है। दारुल उलूम ने फतवा दिया कि सुन्नी समाज के लोगों को शियाओं के यहां होने वाली इफ्तार पार्टी समेत किसी भी दावत में शरीक होने से परहेज करना चाहिए। 

शियों की इफ्तार पार्टी से परहेज करें सुन्नी, शादी दावत भी खाने से बचें: दारुल उलूम

दारुल उलूम खंडपीठ की सलाह

मोहल्ला बड़जियाउलहक निवासी सिकंदर अली ने दारुल उलूम के इफ्ता विभाग से सवाल किया था कि शिया हजरात की इफ्तार और ब्याह-शादी की दावतों में सुन्नी मुसलमानों का जाना जायज है? दारुल उलूम के मुफ्तियों की खंडपीठ ने सवाल के जवाब में सुन्नी मुसलमानों से शियों के यहां रोजा इफ्तार पार्टी में जाने से परहेज करने की सलाह दी। फतवे में कहा गया कि दावत चाहे इफ्तार की हो या ब्याह शादी की। शियो की दावत में सुन्नियों को खाने-पीने से परहेज करना चाहिए।

देवबंद स्थित दारुल उलूम मुफ्तियों की खंडपीठ के इस फतवे की खासियत यह कि इसमें इफ्तार और ब्याह-शादी की दावतों में खाना जायज या नाजायज होने का कोई जिक्र नहीं है। सिर्फ खाने-पीने से परहेज करने की सलाह जरूर दी गई है। 

सहारनपुर से अन्य समाचार व लेख

» सपा विधायक के खिलाफ सहारनपुर में मुकदमा

» सहारनपुर जिले मे मामूली विवाद में बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या

» सहारनपुर मे भाभी के साथ अवैध संबंध के लिए टोकने वाली पत्नी को चाकू मारा

» सहारनपुर में रोडवेज बस ने स्कूली बच्चों को ले जा रहे ई-रिक्शा को टक्कर एक छात्रा की मौत, आठ घायल

» सपा विधायक नाहिद हसन ने सहारनपुर में दुष्कर्म पीडि़ता के पिता को दी धमकी

 

नवीन समाचार व लेख

» अब महागठबंधन का सियासी मंच सजने से पहले ही पीएम उम्मीदवारी पर शह-मात का खेल शुरू

» सीएम योगी ने माब लिंचिंग को लेकर चल रहे बवाल पर कहा मनुष्य और गाय दोनों ही महत्वपूर्ण

» लोकसेवा आयोग से एक अभ्यर्थी को दो प्रवेशपत्र

» मुख्यमंत्री योगी का प्रशिक्षु आरक्षियों को पहली वर्चुअल क्लास में अनुशासन पाठ

» फतेहगढ़ सेंट्रल जेल में बंद राठी की वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी