यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यूपी-झारखंड सीमा पर बालू खनन को लेकर फायरिंग में चार की मौत,8 वाहन फूंके


🗒 शनिवार, मई 20 2017
🖋 Unite For Humanity, Admin ALL INDIA

सोनभद्र । उत्तर प्रदेश-झारखंड के बीच सोनभद्र-गढ़वा जिला सीमा पर स्थित बांकी नदी में बालू खनन को लेकर हुए बवाल में लाठी-डंडे और गोलियां चलने से चार की मौत के बाद ग्रमीणों ने जबरदस्त आगजनी और तोड़फोड़ की। बालू लाने ले जाने के काम में लगे सात ट्रक फूंक दिए गए। हालांकि पहले चर्चा रही कि वारदात को नक्‍सलियों ने अंजाम दिया है मगर बाद में पुलिस ने नक्सली घटना से इन्कार किया है

यूपी-झारखंड सीमा पर बालू खनन को लेकर फायरिंग में चार की मौत,8 वाहन फूंके

सीमा से महज 30 से 35 किमी दूर झारखंड राज्य के गढ़वा जिला अंतर्गत जकपुरा में बांकी नदी से बालू लदे ट्रकों के रास्ते को लेकर एक परिवार व बालू खननकर्ताओं के बीच सुबह आठ बजे विवाद हो गया। रास्ते के विवाद के दौरान पहले दोनों पक्षों में लाठियां चली। अपने को ग्रामीणों से घिरा देख बालू ठेकेदार खेमे के एक व्यक्ति ने बंदूक से फायरिंग झोंक दी। गोली लगने से गढ़वा के जकपुरा गांव निवासी उदय यादव व उनके पुत्रों निरंजन यादव और विमलेश यादव की मौत हो गई। हमले में दूसरे खेमे से एक मुंसी की मौत हुई है। हादसे के बाद ग्रामीणों ने सात ट्रकों व एक बोलेरो को आग के हवाले कर दिया। जिसमें सोनभद्र के कारोबारियों के भी वाहन हैं।

सोनभद्र से अन्य समाचार व लेख

» सोनभद्र में अवैध खनन करने वालों ने नायब तहसीलदार और सर्वेयर को पीटा

» यूपी-बिहार सीमा के जंगलों में घुसी एंटी नक्सल क्यूआरटी

» सोनभद्र में स्वच्छता अभियान के लिए बनाई130 किमी मानव श्रृंखला

» सोनभद्र मे 130 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला का रिकॉर्ड बनाने की तैयारी

» सोनभद्र की कंडाकोट पहाड़ी पर भित्ति चित्र से छेड़छाड़ पर श्रद्धालुओं में आक्रोश

 

नवीन समाचार व लेख

» रायबरेली जिला कारागार में बंदी की हालत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

» बड़ा फैसलाः हाईकोर्ट का रोड साइड अतिक्रमण कर बने धर्मस्थल हटाने का निर्देश

» महोबा में सड़क निर्माण पर विवाद

» गायत्री प्रजापति की जमानत अर्जी पर SC ने यूपी सरकार को जारी किया नोटिस

» अलीगढ़ की कैनरा बैंक शाखा में गबन मामले में बैंक के तीन अधिकारी निलंबित