सोशल मीडिया पर पेट्रोल के दाम में एक पैसा कम करने पर लोगों ने सरकार का मजाक उड़ाया

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सोशल मीडिया पर पेट्रोल के दाम में एक पैसा कम करने पर लोगों ने सरकार का मजाक उड़ाया


🗒 बुधवार, मई 30 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 इंडियन ऑयल (आइओसी) के पेट्रोल की कीमत पहले साठ पैसा कम करने की घोषणा के बाद मात्र एक पैसा कम करने पर लोगों का गुस्सा सोशल मीडिया पर उफनने लगा। पिछले दो हफ्तों से पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। बुधवार को पहली बार दाम में एक पैसे की कमी बताई गई।

सोशल मीडिया पर पेट्रोल के दाम में एक पैसा कम करने पर लोगों ने सरकार का मजाक उड़ाया

लिहाजा, माइक्रो ब्लागिंग साइट ट्विटर पर इस मुद्दे पर हैशटैग और संदेशों की बाढ़ आ गई। सोशल मीडिया पर आलोचनाओं की झड़ी के बीच एक पैसे की कटौती का जमकर मजाक उड़ाया गया। ट्विटर पर हैशटैग पेट्रोल्ड, हैशटैग फ्यूलऑनफायर, हैशटैग पेट्रोलप्राइस और हैशटैग फ्यूल जैसे कई संदेश ट्रेंड करने लगे।

एक यूजर ने पुराने पांच पैसे की फोटो डालकर लिखा-'आज पांच लीटर पेट्रोल भरवाने के बाद मेरी आज की बचत।' एक अन्य यूजर ने लिखा कि मैं इस बचत को अब म्यूचुअल फंड में निवेश करने जा रहा हूं।' वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जैसे कुछ नेताओं ने भी सोशल मीडिया पर इस मुद्दे को लेकर अपनी भड़ास निकाली है।

विशेष से अन्य समाचार व लेख

» मप्र में सपा-बसपा से तालमेल कर कांग्रेस दे सकती है चौंकाने वाले नतीजे

» UP में 100 एसी जनरथ और 50 पिंक बसों का संचालन जल्द

» BJP का अब नया तंज, 2019 में राहुल गांधी को गले नहीं लगाएगी देश की जनता

» मिट्टी के बर्तन अब प्लास्टिक का विकल्प बनेंगे जेम से होगी खरीद

» अब जल्द आ रहा है शत प्रतिशत 'मेक इन इंडिया' 100 रुपये का नया नोट, छपाई शुरू

 

नवीन समाचार व लेख

» गाजीपुर के इस स्कूल में नये सत्र में नहीं आ रहे शिक्षक तो पूर्व प्रधान ने लगाई पाठशाला

» गाजियाबाद की सीबीआई कोर्ट में यादव सिंह के बेटे सनी ने किया समर्पण, भेजा गया जेल

» मथुरा मे मुड़िया मेला शुरू, एक करोड़ लोग नंगे पैर करेंगे गिरिराज की परिक्रमा

» मायावती ने कहा किबसपा के नाम से चल रहे सभी एकाउंट व फेसबुक पेज फर्जी

» कई सरकारी स्कूलों का नाम रख दिया इस्लामिया, शुक्रवार को छुट्टी, रविवार को पढ़ाई