इटावा के फर्रुखाबाद मार्ग पर स्थित कृपालपुर गांव में दीपावली पर नहीं करते गणेश-लक्ष्मी का पूजन

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

इटावा के फर्रुखाबाद मार्ग पर स्थित कृपालपुर गांव में दीपावली पर नहीं करते गणेश-लक्ष्मी का पूजन


🗒 बुधवार, नवंबर 07 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

दीपावली पर जहां पूरा देश विघ्नहर्ता गणेश जी व धन के साथ ऐश्वर्य प्रदान करने वाली मां लक्ष्मी की पूजा करता है, वहीं एक गांव में ऐसा नहीं होता। यहां एक अनूठी परंपरा है, इस गांव के लोग घरों को तो रोशन करते हैं लेकिन गणेश लक्ष्मी का पूजन नहीं करते हैं। सभी ग्रामीण उस घर को रोशन करते हैं जहां विपत्ति के चलते सब कुछ नष्ट हो गया हो फिर अपने-अपने घरों में जाकर दीये जलाते हैं। इटावा के फर्रुखाबाद मार्ग पर स्थित कृपालपुर गांव में ग्रामीण दीपावली पर गणेश व लक्ष्मी जी की पूजा नहीं करते हैं। दीपावली पर गांव की महिलाएं भजन गाते हुए थाली में दीप को प्रज्ज्वलित करती हैं। इसके बाद सभी ग्रामीण अपने परिवार के बड़े बुजुर्गों को याद कर उनकी पूजा करते हैं। समूह के रूप में ग्रामीण दीपों से सजे थाल को लेकर सबसे पहले गांव के उस ग्रामीण के घर पहुंचते हैं जिस घर में विपत्ति के चलते सब कुछ नष्ट हो गया हो।

इटावा के फर्रुखाबाद मार्ग पर स्थित कृपालपुर गांव में दीपावली पर नहीं करते गणेश-लक्ष्मी का पूजन

दीपावली का पहला दीया उसी के घर पर रखकर रोशन किया जाता है। इसके बाद हर घर में दीये रखकर पूरे गांव को रोशन किए जाने की परंपरा है। कृपालपुर गांव में बंजारा बिरादरी की करीब पांच हजार आबादी हैं। गांव की विमला देवी बताती हैं कि यहां दीपावली पर बुजुर्गों व इस मौसम में खेत में पैदा होने वाले नए अनाजों की पूजा करने का विधान है। दीप पर्व मनाने की यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। गांव के प्रधान वेदपाल सिंह ने बताया कि मुगलकाल के समय से ही यह परंपरा चली आ रही है। बंजारा समुदाय को पृथ्वीराज चौहान का सहयोगी माना जाता था। उस समय मुगल शासकों से युद्ध के दौरान बंजारा समुदाय भी मैदान में उतरता था। दीपावली पर थाली में दीये रख बुजुर्गों को समर्पित करते हैं फिर चंद्रमा व सूर्य का स्मरण करते हैं। दीये के थाल को घर के हर कमरे में घुमाया जाता है ताकि लक्ष्मी का वास हो।

विशेष से अन्य समाचार व लेख

» अब फार्मेसी डिप्लोमा की बढ़ेंगी तीस हजार सीटें, प्रदेश में खुलेंगी 500 नई संस्थाएं

» सवर्ण आरक्षण से गरीबों को लाभ कम, नुकसान अधिक होने की आशंका

» SBI देता है नाबालिग के नाम पर बैंक अकाउंट खोलने का मौका

» देश को म‍िली उल्लेखनीय सफलता, विदेशी कर्जे का बोझ 3.6 फीसद कम हुआ

» दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन कुंभ मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरठ मे चंद्रशेखर ने कहा- हमें मत छेड़ना, कपड़े की तरह फाड़ देंगे

» जिला जौनपुर में शारदा सहायक नहर में पुलिया तोडकर ट्रक गिरने से दो गंभीर रूप से घायल

» गाजीपुर जिले में ऑनलाइन धोखाधड़ी के शिकार युवक ने खुद को आग के हवाले कर दे दी अपनी जान

» मध्य प्रदेश में फर्जी डिग्री से टवारी बने 12 लोगों पर शिकंजा, दस-दस हजार का इनामं घोषित

» लखनऊ पहुंचे लाखों राज्य कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन के लिए ताकत दिखाई