यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अब सोशल मीडिया पर छाया है चौकीदार वार


🗒 बुधवार, मार्च 20 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

ये नए भारत में लोकसभा का चुनाव है। कभी वाहन तो कभी पैदल घूम-घूमकर वोट मांगने वाले नेता वक्त की नजाकत को भांपते हुए सोशल नेटवर्क में शुमार हो गए हैं। ट्विटर, फेसबुक, वाट्सएप जैसी सोशल साइट्स पर यदा- कदा नजर आने वाली सियासी पोस्ट अब सियासत से सराबोर हो रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार सुबह अपने ट्विटर हैंडल पर 'मैं भी चौकीदार लिखा तो इस स्लोगन ने देखते ही देखते ट्रेंड के नए आयाम स्थापित कर दिए। मोदी की तर्ज पर फोलो करते हुए भाजपा नेताओं ने जहां सोशल अकाउंट पर अपने नाम के आगे 'मैं भी चौकीदार' जोड़ लिया तो तमाम ने अपनी डीपी (डिस्प्ले पिक्चर) ही इसके नाम कर दी। चुनावी महासमर शुरू हो चुका है। प्रतिद्वंद्वी की एक- एक गतिविधि पर पैनी पहरेदारी है। मोदी का ट्विटर हैंडल हो या अन्य वरिष्ठ भाजपाइयों के, प्रतिद्वंद्वियों ने कमेंट्स करने में एक पल भी नहीं गंवाया। स्थिति ये है कि सोशल साइट्स पर सियासी जुबानी जंग के तमाम रंग देखने और पढऩे को मिल रहे हैं।

अब सोशल मीडिया पर छाया है चौकीदार वार

आगरा में एससी आयोग के अध्यक्ष सांसद रामशंकर कठेरिया ने लिखा है, मुझे है अपने देश से प्यार, इसलिए मैं भी चौकीदार। कैबिनेट मंत्री एसपी सिंह बघेल ने पोस्ट किया है, भारत मां कहे, मैं महफूज हूं, चौकीदार संग, मैं भी मजबूत हूं। विधायक जगन प्रसाद गर्ग, महानगर अध्यक्ष विजय शिवहरे समेत अन्य भाजपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के अलावा अन्य यूजर्स मैं भी चौकीदार...' पोस्ट कर रहे हैं। भाजपा नेताओं की पोस्ट पर विपक्षी पार्टियों के पदाधिकारी व कार्यकर्ता कमेंट्स नहीं कर रहे, लेकिन इस पर पोस्ट कर चुटकियां लेते हुए सवाल जरूर दाग रहे।फेसबुक पर मेयर नूतन राठौर से लेकर पूर्व जिलाध्यक्ष और कार्यकर्ता भी दिखाई दे रहे हैं। भाजयुमो महानगर अध्यक्ष अंकित तिवारी ने फरसे के साथ फोटो पोस्ट कर खुद को चौकीदार लिखा है। विरोध में भी पोस्ट चल रहे हैं। शिकोहाबाद निवासी अभिषेक यादव ने फेसबुक पर तस्वीर के साथ पोस्ट किया है कि 'मेरा जूता चौकीदार'।नारखी के सचिन प्रताप ने लिखा है कि 'मैं क्षत्रिय हूं, चौकीदार क्यों बनूंगा। बहोरनपुर के शिक्षा विभाग में अनुदेशक राकेश पटेल ने पोस्ट किया है कि 'अनुदेशक मानदेय रुपये 17,000 मार्च 2017 से केंद्र से स्वीकृत होने के बाद नहीं दे रही उत्तर प्रदेश सरकार। कैसे कहूं कि मैं चौकीदार हूं।' कांग्रेसी नेता भी पीछे नहीं हैं। जिलाध्यक्ष हरीशंकर ने लिखा कि 'मित्रों, किसी अपार्टमेंट में चोरी होती है तो थानेदार सबसे पहले किसको उठाता है चौकीदार को, मोदी है तो मुमकिन है। सब चोर चौकीदार बन गए।' सेल्समैन महावीर ङ्क्षसह कहते हैं कि पीएम देश की चौकीदारी कर रहे, तो हम गली मुहल्लों के चौकीदार हैं। ट्रांसपोर्ट कंपनी के मैनेजर दीपक ने पोस्ट किया है-मैं भी जिम्मेदारी निभा रहा हूं, इसलिए चौकीदार हूं।

सांसद राजवीर सिंह ने तो ट्वि‍टर एकाउंट पर नाम के आगे चौकीदार लिख दिया है। इनके फॉलोअर भी अपना फेसबुक एकाउंट बदल रहे हैं। भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ बृज क्षेत्र सह संयोजक बीडी राना ने फेसबुक एकाउंट पर खुद को चौकीदार लिखा है। आइटी विभाग के वैभव वाष्र्णेय के साथ भाजपा के कई नेताओं का फेसबुक प्रोफाइल चौकीदार शब्द से अलग चमक रहा है।भाजपा नेताओं की फेसबुक पोस्ट पर कई तरह की अपील भी आ रही हैं। एक नेता की फेसबुक पोस्ट पर कृष्णपाल ङ्क्षसह लोधी ने लिखा है 'चौकीदार हैं तो बीएड टीईटी 2011 को नियुक्ति दिलाएं तो कमल खिलेगा, अन्यथा नोटा दबेगा। रौनक अशर्फी का कमेंट है 'एक बार वोट देकर देख लिया, इस बार कंफ्यूजन है।रविवर सुबह मोदी के बाद एक पोस्ट चली, वो अकेला चल पड़ा...मैं उसकी ही कतार हूं, मैं देश के विकास में छोटा सा भागीदार हूं, हां मैं भी चौकीदार हूं। भाजपाइयों की इस कसरत पर प्रतिद्वंद्वी भी सक्रिय हो गए। तरह-तरह की कमेंट्स से पलटवार कर रहे हैं। सपा, बसपा, कांग्रेस और अन्य दलों के नेताओं ने कमेंट में लिखा है चौकसी, मोदी, माल्या भागे तब चौकीदार कहां था, एक ने पोस्ट डाली आतंकी आ जाते, चौकीदार सोता रह जाता आदि तरह-तरह के पोस्ट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं।शहर के आवास विकास कॉलोनी दवा प्रतिनिधि अनिल दुबे का कहना है कि पहली बार किसी प्रधानमंत्री ने खुद को चौकीदार बताया है। उन्होंने जो कहा है वह साबित भी किया है। इसलिए मैं तो चौकीदार के साथ हूं। पंजाबी कॉलोनी निवासी प्रज्ञा कॉलेज स्टूडेंट हैं। उनका कहना है कि चौकीदार ने सारी योजनाओं को पारदर्शी बना दिया है। आधार से योजनाओं का ङ्क्षलकअप करा घपलेबाजी पर ही अंकुश लगा दिया। वाकई ऐसे चौकीदार को दोबारा मौका देना चाहती हूं। बिछवां निवासी टिन्नी यादव ने फेसबुक पर इसे असली मुद्दे से ध्यान भटकाने वाला करार दिया है।  

विशेष से अन्य समाचार व लेख

» होली को लखनऊ में 21 को दो बजे तक पेट्रोल पंप बंद, फ्लाइट-ट्रेनें-बसें सब फुल

» अब एक गलत पोस्ट आपको कर देगा फेसबुक से बेदखल, चुनाव में रहिए सावधान

» अब मोबाइल एप के जरिये दे सकेंगे आचार संहिता उल्लंघन की जानकारी, 100 मिनट में होगी कार्रवाई

» अब ऑनलाइन मिलेगी रैली और चुनाव प्रचार संबंधी अनुमति

» आज से आचार संहिता लागू, जानिए क्‍या परिवर्तन होंगे जन के तंत्र में

 

नवीन समाचार व लेख

» राजधानी में शोहदे ने की छेड़खानी, विरोध पर किशोरी के पिता को पीटा फिर फाड़े मां के कपड़े

» होली को लखनऊ में 21 को दो बजे तक पेट्रोल पंप बंद, फ्लाइट-ट्रेनें-बसें सब फुल

» बाराबंकी मे भूमि विवाद में बांके से भाई ने भाई को उतारा मौत के घाट

» राजधानी मे गैर इरादतन हत्या मामले में सपा के पूर्व MLA के बेटे को सात साल की सजा: कार से पांच मजदूरों को रौंदने का मामला

» राम मंदिर और बाबरी मस्जिद के पक्षकारों ने एक-दूसरे को लगाया गुलाल, मनाई होली