यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्राइवेट संस्थाओं पर कसेगा शिकंजा, नौकरी से निकालने की देनी होगी सेवायोजन विभाग को सूचना


🗒 शुक्रवार, मार्च 09 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

सेवायोजन विभाग निजी संस्थाओं पर शिकंजा कसने की तैयारी में जुट गया है। सेवायोजन कार्यालय में पंजीकृत युवाओं को नौकरी देने के साथ ही अब नौकरी से बाहर करने की सूचना भी विभाग को देना अनिवार्य होगा। ऐसा न करने वाली संस्थाओं का पंजीयन भी रद हो जाएगा।

प्राइवेट संस्थाओं पर कसेगा शिकंजा, नौकरी से निकालने की देनी होगी सेवायोजन विभाग को सूचना

इसके पीछे कि यह है मंशा

सेवायोजन कार्यालयों में पंजीकृत बेरोजगारों को रोजगार मेले के माध्यम से नौकरी देने की पहल शुरू हुई है। इसके साथ ही नौकरी देने वाली संस्थाओं को भी विभाग के वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीयन कराने का निर्देश दिया गया है। इसके पीछे मंशा यह है कि प्राइवेट कंपनियों में नौकरी पाने वाले बेरोजगारों का भविष्य सुरक्षित हो और उनकी योग्यता के अनुसार वेतन मिल सके। ऐसा न करने वाली निजी संस्थाओं का पंजीयन रद करने या फिर जुर्माना लगाने का प्रावधान होगा। वेतनमान की सूचना भी ऑनलाइन देनी होगी।

सेवायोजन कार्यालय में पंजीयन के लिए आपको लाइन लगाने की जरूरत नहीं होगी। सेवायोजन विभाग की वेबसाइट (सेवायोजन.यूपी.एनआइसी.इन) ऑनलाइन पंजीयन के साथ 'सेवायोजन एप' से नवीनीकरण और पंजीयन कराया जा सकेगा। दोनों के माध्यम से नौकरी के लिए बेरोजगार आवेदन भी कर सकेंगे।

प्रदेश प्रसाशन से अन्य समाचार व लेख

» उत्तर प्रदेश मे वाणिज्य कर के 28 एडिशनल कमिश्नरों को मिली नई तैनाती

» महापुरुषों की मूर्तियों की सुरक्षा के लिए पूरे उत्तर प्रदेश में अलर्ट

» 'बड़े घरानों को लोन देने के बजाय बैंक गरीबों पर लगाएं दांव, पैसा नहीं डूबेगा'

» इन्वेस्टर्स समिट में नीति-नीयत परीक्षा के लिए उद्यमियों की समस्याएं निपटारे पर जोर

» पत्र सूचना शाखा (मुख्यमंत्री सूचना परिसर)

 

नवीन समाचार व लेख

» कांग्रेस को शक, लोकसभा में 'कोई' कर रहा है निगरानी; स्पीकर से की शिकायत

» 27 को पूर्ण चंद्र ग्रहण, 12 में से सात राशि वालों को कष्ट

» मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे के खिलाफ कानपुर में मुकदमे की अर्जी

» जनपद इटावा में पुलिस ने पूर्व महिला प्रधान को पीटकर निर्वस्त्र किया, बेटी को छत से फेंका

» इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एसपी प्रतापगढ़ को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया