यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एक तरफ गणेश जी की खिदमत भारी दूसरी तरफ एक मूर्ति टूटी बेचारी


🗒 शुक्रवार, सितंबर 14 2018
🖋 चित्रभान केशव अग्निहोत्री, ब्यूरो प्रमुख कानपुर

एक तरफ तो गणेश जी की खिदमत भारी.दूसरी तरफ एक मूर्ति टूटी बेचारी आज लोगों में गणेश महोत्सव को लेकर देश विदेश में खासा उल्लास हैं। हर शहर हर गली हर मोहल्ले में गणेश प्रतिमा स्थापित करने की होड़ लगी हैं। बजारों में गणेश प्रतिमाओं की बोली भी लगाई जा रही हैं। सौ रुपये से लेकर अरबों रुपये तक़ की कीमत की मूर्तियों की स्थापना की जा रही हैं। लोगों में गणेश महोत्सव को लेकर काफी हर्षौल्लास का माहौल हैं ।

एक तरफ गणेश जी की खिदमत भारी दूसरी तरफ एक मूर्ति टूटी बेचारी

मेरा सवाल हैं उन लोगों से जो गणेश प्रतिमा की बजार तो लगाते हैं पर आज के दिन टूटी मूर्तियों का सम्मान नही करते जो टूट जाती हैं क्या इन मूर्तियों में ईश्वर का अंश नही होता क्या इन टूटी मूर्तियो का यूं ही अनादर किया जाता रहेगा?

आज का मामला हैं कानपुर के निराला नगर में सजी बजार का जहां एक खंडित मूर्ति को रोड के बीच डिवाइडर पर रख दिया गया हैं और तमाशबीन भक्त की नजर उस मूर्ति पर बिल्कुल नही जाती और नजर जाती भी हैं तो उसे उस खंडित मूर्ति में अपने भगवान नजर क्यों नही आते क्या ऎसी मूर्तियों को सम्मान नही मिलना चाहिये ?क्या इन खंडित मूर्तियों को किसी जगह ढक कर नही रखा जा सकता?मेरे ख्याल से जिस तरह हम अपने राष्ट्रीय ध्वज को सम्मान देते हैं उसी प्रकार अपने ईस्ट देवों को भी सम्मान देना हमारा दायित्व हैं। कानून के हिसाब से जिस प्रकार राष्ट्रीय ध्वज का अपमान करने वाले पर देश द्रोह का मुकद्दमा होता हैं उसी प्रकार हमारे ईस्ट देवों की मूर्तियों का अपमान करने वालों पर भी ऎसा ही कोई कानून बनना अनिवार्य हों गया हैं।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» जिला कानपुर में पकड़े गए आतंकी ने एयरफोर्स स्टेशन के पास बनाया था ठिकाना

» कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कोतवाली में विजय माल्या को देश से भगाने में अरुण जेटली के खिलाफ तहरीर

» IPS सुरेन्द्र दास आत्महत्या मामले में आया नया मोड़

» सेंट्रल स्टेशन पर हो रही पानी की बर्बादी , कर्मचारी नदारद

» देवनगर मे मामूली लेनदेन को लेकर हुआ दो पक्षों मे विवाद , जमकर चले लाठी डंडे

 

नवीन समाचार व लेख

» उन्नाव भारतीय जनता पार्टी मे हुआ पिछड़े मोर्चे का गठन

» एक तरफ गणेश जी की खिदमत भारी दूसरी तरफ एक मूर्ति टूटी बेचारी

» लालपुर कोसी पर ताजिये निकालने के लिए पुल का निरीक्षण करते एसपी।

» ग्राम काशीपुर आंगा में ग्रामीणों से वार्ता करते अफसर

» मौदहा में मौत बनकर दौड़ रहे आवेध मोरंग भरे डम्फर और रट्रैक्ट