यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

योगी राज मे पत्रकारो पर कहर जारी , फिर पीटा गया पत्रकार को


🗒 गुरुवार, नवंबर 08 2018
🖋 चित्रभान केशव अग्निहोत्री, ब्यूरो प्रमुख कानपुर

कानपुर - इन दिनों देश क़ा चैथा स्तम्भ सड़कों पर पीटा जा रहा हैं और सरकारें कुछ नही करने पर आमादा हैं। गत वर्षों में पूरे भारत में कई जगहों से पत्रकार के साथ हिंसा व मारपीट की कई घटनायें सामने आ चुकी हैं। अभी कुछ ही दिन पहले दूरदर्शन के पत्रकार की कवरेज के दौरान नक्सली हमले में जान चली गई थी जबकि नक्सलियों ने ये घोषणा की थी की वह पत्रकारों को कोई नुकसान नही पहुंचायेंगे। ऎसे कई मामले सामने आने के बाद भी भाजपा सरकार शांत हैं।

योगी राज मे पत्रकारो पर कहर जारी , फिर पीटा गया पत्रकार को

आज ऎसा ही जान लेवा मामला कानपुर के नौबस्ता थानाअन्तर्गत मछरिया में देखने को मिला।

दैनिक जीवन सुरक्षा टाइम्स के मंडल ब्यूरो प्रभारी अब्दुल बारिक पुत्र अब्दुल खालिद निवासी 1150/18मछरिया पर आज क्षेत्रीय दबंग इमरान टैंकर ने अपने दो अज्ञात साथियों के साथ मिलकर मारपीट की जिसमें पत्रकार अब्दुल बारिक को काफी चोटें आई गनीमत यह थी की क्षेत्रीय लोगों के बीच बचाव के कारण दबंग भाग गये। पत्रकार अब्दुल ने बताया की उन्होंने गत दिनों इमरान टैंकर के खिलाफ कोई खबर अखबार में लगाई थी जिससे खिन्न इमरान टैंकर ने आज मौका पाकर पत्रकार अब्दुल बारिक पर हमला कर दिया इस मारपीट में पत्रकार क़ा कैमरा भी तोड़ दिया गया। आज पत्रकारों क़ा सवाल हैं वर्तमान सरकार से आखिर कबतक ऎसे ही पत्रकार दबंगों क़ा शिकार होंगे ?आखिर कब सरकार पत्रकार सुरक्षा कानून बनायेगी ?

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» शहर मे गली से लेकर होटलों तक शहर के कोने कोने मे बिछी है विसाते

» गोवर्धन पूजा का महत्व क्यो मनाते है गोवर्धन पूजा

» सरकार के अध्यादेश का जनमानस पर कोई असर नही लोगो ने आधी रात तक दम भर छुड़ाए पटाके

» इंजीनियरिंग छात्र के परिवार वालों ने शहर के प्रमुख शिक्षण संस्थान को दी सूचना, फेसबुक की पोस्ट देखकर सुरक्षा एजेंसियां भी सक्रिय

» कानपुर मे वाट्सएप ग्रुप पर बनाते थे कस्टमर, ऑन डिमांड भेजते थे कॉल गर्ल और प्ले ब्वॉय