यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

विदेश मंत्री व मथुरा सांसद हेमा मालिनी की गरिमामयी उपस्थिति में वृन्दावन के अक्षयपात्र में नारी शक्ति कुम्भ का उद्घाटन सत्र हुआ संपन्न


🗒 रविवार, दिसंबर 09 2018
🖋 शुभम शर्मा, वृन्दाबन संवाददाता मथुरा

मथुरा:- जनपद के वृन्दावन में अक्षय पात्र फाउण्डेशन परिसर में डा0 भीमराव आम्बेडकर विश्वविद्यालय आगरा एवं पर्यटन विभाग उ0प्र0 सरकार के संयुक्त तत्वाधान में रविवार को दो दिवसीय नारी शक्ति कुम्भ एक वैचारिक मंथन कार्यक्रम देश-प्रदेश के प्रखर वक्ताओं के उद्बोधन के साथ प्रारम्भ हुआ। कार्यक्रम में भारत वर्ष के सभी राज्यों से आयी हुई पांच हजार से अधिक वह महिलाऐं जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्रों में कुशल नेतृत्व कर नारी शक्ति को एक नये आयम दिये हैं, उनको सम्बोधित करते हुए महामहिम राज्यपाल श्री रामनाईक जी ने कहा कि इस नारी शक्ति कुम्भ के द्वारा हमारे इतिहास व वर्तमान स्थिति के चिन्तन में जो अमृत निकलेगा उसे लेकर यह महिलाऐं अपने-अपने क्षेत्र में जायेंगी। उन्होंने कहा कि पुरूष व नारी राष्ट्र के दो पहिये हैं जिनके कंधों पर राष्ट्र को ऊंचाइयों पर ले जाने की जिम्मेदारी है इसलिए दोनों में आपसी सामंजस्य होना चाहिए। उन्होंने बताया कि गतवर्ष 28 में से 26 विश्वविद्यालयों में दीक्षान्त समारोह संपन्न हुए हैं जिनमें उपाधि प्राप्त करने वालों में छात्राओं की संख्या 51 प्रतिशत रही है और यह इस वर्ष होने वाले दीक्षान्त समारोह में बढ़कर 56 प्रतिशत हो गई है जो कि महिलाओं की निरन्तर प्रगति के संकेत है। उन्होंने कहा कि इस नारी शक्ति का प्रयोग समाज व राष्ट्र के लिए हो, इसका मंथन इस नारी शक्ति कुम्भ में किया जाना चाहिए।
कार्यक्रम के दौरान भारत सरकार की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने महिलाओं को अपने अतीत का गौरव याद दिलाते हुए कहा कि अब अपनी बेटियों को यह बताओं कि तुम कुछ कर नहीं सकती यह शब्द अपने शब्दकोष से निकाल दो, आप वह सब कुछ कर सकती हो जो एक पुरूष कर सकता है। उन्होंने कहा कि समाज को अपनी मानसिकता बदलनी होगी और नारी को अपनी शक्ति पहचाननी होगी। उन्होंने नारी को अपनी शक्ति की याद दिलाते हुए कहा कि सभी पुरूष देवों का वर्ष में एक-एक दिन है और नारी शक्ति की उपासना के लिए वर्ष में दो बार नवरात्रि अर्थात 18 दिन आते हैं। उन्होंने प्रकृति मंे नारी शक्ति व वौद्धिकता का उदाहरण देते हुए कहा कि जंगल में शिकार शेर नहीं करता है शेरनी करती है और पहले शेर को खिलाती और अपने बच्चों को खिलाती है और फिर वह खाती है। इसी प्रकार से हाथियों के झुण्ड में नेतृत्व हथिनी करती है, जो बौद्धिकता का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में परिवारों में आयीं विकृतियों को सुदृढ़ करने व बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ की जिम्मदारी महिलाओं को उठानी होगी।
कार्यक्रम के दौरान गोवा की राज्यपाल महामहिम मृदुला सिन्हा, उ0प्र0 सरकार के पर्यटन व संस्कृति मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, बेसिक शिक्षा/बाल विकास पुष्टाहार मंत्री अनुपमा जायसवाल, ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा ने अपने संबोधन में महिलाओं के अनेकों उदाहरण देखकर बताया कि नारी शक्ति ने प्रत्येक क्षेत्र में अपने नये कीर्तिमान स्थापित किये हैं। वह देश को ऊचांइयों पर ले जाने के लिए प्रत्येक क्षेत्र में पुरूषों से कंधे से कंधा मिलाकर कार्य के लिए तैयार खड़ी हैं। इस अवसर पर डा0 भीमराव आम्बेडकर विश्वविद्यालय द्वारा संपादित शोध पत्रों का सारांश पत्रिका का विमोचन महामहिम राज्यपाल उ0प्र0 के करकमलों द्वारा किया गया। नारी शक्ति कुम्भ वैचारिक मंथन के द्वितीय सत्र में ‘‘वर्तमान चुनौतियां एवं समाधान, राष्ट्र उत्थान में नारी की भूमिका, समर्थ परिवार-समर्थ राष्ट्र, आदिशक्ति नारी साक्षात्कार, शोध पत्र‘‘ विषयों पर मंथन व चिन्तन किया जायेगा। कार्यक्रम का संचालन डा0 निर्मला यादव ने किया और समापन राष्ट्रगान गाकर किया गया।
कार्यक्रम में डा0 भीमराव आम्बेडकर विश्वविद्यालय के कुलपति डा0 अरविन्द कुमार दीक्षित, उ0प्र0 महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह एवं कार्यक्रम के संयोजक जयप्रकाश चतुर्वेदी, गीता ताई गुंडे, निवेदिता भिडे, डा0 विनीता सिंह, डा0 पूर्णिमा जैन, आशा अग्रवाल, ममता यादव, डा0 भारती, भाग्यश्री साठये, डा0 तेजपाल सिंह, डा0 प्रीति जौहरी आदि सहित भारी संख्या में देश के कौने-कौने से आई महिलाऐं उपस्थित रहीं।

विदेश मंत्री व मथुरा सांसद हेमा मालिनी की गरिमामयी उपस्थिति में वृन्दावन के अक्षयपात्र में नारी शक्ति कुम्भ का उद्घाटन सत्र हुआ संपन्न

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» जग प्रसिद्ध राधा रमण मन्दिर में हर्सोल्लास के साथ मनाया गया प्राकट्य महोत्सव

» प्राथमिक विद्यालय में युवक का शव मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी

» दो दिन पूर्व हुए झगड़े में पीड़ित पक्ष की पुलिस ने नही की रिपोर्ट दर्ज

» सड़क हादसे में हुई महिला की दर्दनाक मौत

» शौचालय तो पक्के लेकिन कच्ची झोपड़ियो में रह रहे ग्रामीण

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे ने पीएम मोदी को भेजा कानूनी नोटिस, 36 घंटे के अंदर माफी मांगने की मांग

» स्ट्रांग रूम के पास तार टूटने से कार में लगी आग

» पांच सौ रुपये की घूस, 17 साल बाद म‍िली डेढ़ वर्ष की सजा

» अब भाजपा नेताओं पर बिगड़े बोल पर राजभर पर मुकदमा

» भारतीय जनता पार्टी ने मायावती और अखिलेश के ख‍िलाफ आयोग से की शिकायत