यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

Air Strikes से भारत ने लिया पुलवामा का बदला, परिजन बोले सरकार से यही उम्‍मीद


🗒 मंगलवार, फरवरी 26 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

भारत के जवानों की शहादत का बदला लेने के लिए आज सुबह भारतीय वायुसेना ने लाइन ऑफ कंट्रोल पर आतंकियों के ट्रेनिंग कैंप पर 21 मिनट तक बमबारी की। जिससे बड़ी संख्या में आतंकी मारे गए हैं। भारतीय वायुसेना की इस कार्रवाई पर शहीदों के परिजनों ने कहा आज सुकून मिला है। सरकार से यही उम्‍मीद थी। अब आतंकवाद के खात्मे का समय आ गया है। मोदी सरकार अपनी यह कार्रवाई यहीं नहीं रोके, जारी रखे।

Air Strikes से भारत ने लिया पुलवामा का बदला, परिजन बोले सरकार से यही उम्‍मीद

पुलवामा हमले के बाद आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए मेरठ में बसा टीकरी गांव के अजय कुमार के परिजनों को आज सुकून मिला है। अजय कुमार की मां कमलेश का कहना है कि मोदी से हमें यही उम्मीद थी और वे हमारे विश्वास पर खरे उतरे हैं। उन्होंने कहा कि घाटी में आतंकवाद के सफाए को लेकर सरकार के सामने अड़चन बनने वली महबूबा मुफ्ती अगर हमारे सामने आएं तो हम उन्हें सबक सिखाएंगे।शहीद अजय की पत्नी प्रियंका ने इस ऑपरेशन को शहीद जवानों को श्रद्धांजलि बताया। कहा कि आतंकवाद को जड़ से खत्म करने का यही सबसे सही समय है। देश की सरहद से आतंक मिट जाएगा तो और किसी की मांग सूनी नहीं होगी, न ही किसी की कोख उजड़ेगी।शहीद के पिता वीरपाल ने कहा कि यह बदला जरूरी था। तरीका बिल्कुल सही अपनाया गया है। आतंकवाद के खात्मे का भी समय आ गया है। मोदी सरकार अपनी यह कार्रवाई यहीं नहीं रोके, जारी रखे।शहीद प्रदीप के पिता ने कहा कि यह अच्छा निर्णय है। एयरफोर्स ने अच्छी कार्रवाई की है। ऐसी कार्रवाई लगातार हो, तभी आतंकवाद समाप्त होगा। उन्हें इस कार्रवाई से संतुष्टि मिली। शहीद जवानों की आत्मा को भी शांति मिलेगी। उन्होंने पीएम नरेन्द्र मोदी से सीआरपीएफ के जवानों के शहीद जवानों को शहीद का दर्जा देने की मांग की।पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए शामली के अमित कोरी के पिता सोहनलाल व मां उर्मिला ने एयरफोर्स की सर्जिकल स्ट्राइक पर संतोष जताया। उन्होंने इसे 40 शहीदों की मौत का बदला बताया है। उन्होंने सेना से अपील की कि वह सर्जिकल स्ट्राइक में केवल आतंकियों को निशाना बनाए, नागरिक इसमें हताहत न हो। उन्होंने आतंकी ठिकाने नष्ट होने पर कहा कि सेना ने देश का गौरव बढ़ाया है। पीएम नरेन्द्र मोदी को बधाई दी है। अमित के भाई प्रमोद ने कार्रवाई को अच्छा बताया। उन्होंने आतंकवादियों व उनके ठिकानों को नष्ट करने की मांग की। भाई की शहादत के 13 दिन बाद ही बदला लेने पर उन्होंने पीएम को बधाई दी है।

शामली कस्‍बा बनत के शहीद प्रदीप प्रजापति के बेटे विजयंत व पत्नी शर्मिष्ठा व ने एयरफोर्स की कार्रवाई को अच्छा तो बताया लेकिन उन्होंने इस पर संतुष्टि नहीं जतायी। शहीद की पत्नी ने कहा कि अब तक जो दिख रहा है उसमें किसी आतंकी का शव दिखायी नहीं दिया है। ऐसा लग रहा है जैसे किसी सुनसान स्थान पर कार्रवाई की। मेरे पति समेत 40 सीआरपीएफ के जवान शहीद हुए है, एक भी आतंकी का शव दिखायी नहीं दिया, ऐसे में वह कैसे संतुष्ट हो कि आतंकी ठिकाने खत्म हो गए और आतंकी मर गए। उन्होंने कहा कि जब तक इन आतंकियों का सफाया नहीं होगा तब तक उन्हें सुकून नहीं मिलेगा। शहीद प्रदीप के बेटे विजयंत ने भी कहा आतंकी ठिकानों पर बमबारी कर एयरफोर्स ने अच्छा काम किया लेकिन आतंकियों के शवों की फोटो देखे बिना उन्हें संतुष्टि नहीं मिलेगी। उन्होंने कहा कि सरकार को मारे गए आतंकियों के तस्वींर भी जारी करनी चाहिए ताकि शहीदों के परिवारों को संतुष्टि मिले।

उत्तर प्रदेश से अन्य समाचार व लेख

» UP के इटावा में कार में आग से चालक जिंदा जला, प्रतापगढ़ में ट्रक ने तीन को रौंदा

» प्रियंका गांधी और राहुल ने पश्चिम उत्तर प्रदेश के शहीद परिवारों को ढांढस बंधाया

» UP मे राष्ट्र विरोधी पोस्ट पर कई लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा

» DM की पैनी नजर 'खून का बदला खून' मांग रही Social मीडिया,

» UP मे शहीदों को अंतिम विदाई देने उमड़ा जनसैलाब तो रो पड़ी हर आंख

 

नवीन समाचार व लेख

» Air Strikes से भारत ने लिया पुलवामा का बदला, परिजन बोले सरकार से यही उम्‍मीद

» जिला हाथरस में सर्राफों को ठगने वाली युवती पकड़ी गई

» अपने इस गढ़ को नहीं छोड़ेंगे मुलायम अखिलेश ने कयासों को दिया विराम

» जिला एटा में मुख्‍यमंत्री ने किया दो हजार करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्‍यास

» जौनपुर मे युवक की मौत से गुस्साए लोगों ने लुम्बिनी- दुद्धी राजमार्ग पर लगाया जाम