यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वाराणसी के जेएचवी मॉल में हत्‍या के आरोपी रोहित सिं‍ह को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार


🗒 शुक्रवार, नवंबर 02 2018
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

जेएचवी मॉल हत्याकांड में क्राइम ब्रांच ने हत्यारोपी रोहित सिंह को सारनाथ रेलवे स्टेशन के पास से उस समय गिरफ्तार कर लिया जब वह बिहार भागने की फिराक में था। रोहित पर पुलिस ने 25 हजार का पुरस्कार पहले की घोषित किया था। रोहित ने ही अन्य आरोपी आलोक, ऋषभ व कुंदन को मॉल में बिना चेकिंग के मुख्य गेट से प्रवेश कराया था। वह भी हत्या की साजिश में शामिल था। वहीं पुलिस अन्य आरोपी 25-25 हजार इनामी आलोक, ऋषभ, कुंदन की तलाश में लगी हुई है।

वाराणसी के जेएचवी मॉल में हत्‍या के आरोपी रोहित सिं‍ह को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

जेएचवी मॉल में फायरिंग के मामले में कई जानकारियां हाथ लगी थीं। मॉल से जुड़े कर्मचारियों ने बताया कि आलोक उपाध्याय अपने दो साथियों के साथ आया था। मॉल में आने के बाद रोहित भी उन लोगों के साथ हो लिया। रोहित मॉल में ही फ्लाईंग मशीन के स्टोर में काम करता है। साजिश के तहत रोहित ने स्टोर में लगे सीसी कैमरे को भी ऑफ कर दिया था। इस बीच प्रशांत ने आलोक को देख लिया। नजर बचाकर प्रशांत प्यूमा के स्टोर से निकलकर दूसरे स्टोर में जाकर छिप गया। इस बीच आलोक अपने साथियों के साथ प्यूमा में घुसा। वहां पर काम करने वाले हिमांशु पांडेय से प्रशांत के बारे में पूछा। हिमांशु पहले से पूरे मामले को जानता था इसलिए वह आलोक को समझाने लगा। इस बीच सभी स्टोर से बाहर आ गए। अचानक आलोक और उसके साथियों ने पिस्टल निकाल लिया और कमर में सटाकर बोले, तू बहुत पक्ष लेता है इसलिए चल आज पहले तूझे ही निबटाते हैं। इस बीच यूवीकैन स्टोर में काम करने वाले विशाल की नजर पड़ गई। वह आलोक और उसके साथियों से उलझ गया। आलोक को उसने जमीन पर पटक दिया। इस बीच आलोक के साथ बाहर की ओर भागे। इस बीच गोली चल गई। विशाल ने आलोक के हाथ से पिस्टल छीन ली। इस बीच अचानक आलोक के साथी वापस आए और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। विशाल और गोपी समेत अन्य कर्मचारी यूवीकैन के स्टोर में भागे। आलोक और उसके साथी अंदर की ओर आए और विशाल पर गोली दागनी शुरू कर दी। गोलीबारी की जद में गोपी, संजय, विशाल, चंदन आ गए। ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने के बाद आलोक व उसके साथी भाग निकले। सुनील और गोपी की सीने में गोली लगने से मौत हो गई जबकि चंदन व विशाल की हालत फिलहाल खतरे से बाहर है। 

जेएचवी मॉल में बुधवार को अंधाधुंध फायरिंग कर दो लोगों की हत्या के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चेतावनी देते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश में अपराध किसी हाल में स्वीकार नहीं होगा। कानून - व्यवस्था दुरूस्त रखने के लिए कठोर कार्रवाई करें। हत्याकांड में शामिल दोषियों को बख्शा नहीं जाए।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए वाराणसी के अधिकारियों से जेएचवी हत्याकांड के बाबत जानकारी ली। एसएसपी ने जब सीएम को बताया कि हत्याकांड में शामिल एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है तब सीएम ने कहा कि अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी शीघ्र होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रवासी भारतीय दिवस आयोजन से पूर्व इस तरह की वारदातें छवि खराब करती है।मृतकों के परिजनों ने जिला प्रशासन से मुआवजे के लिए मांग की है। कमाऊ सदस्‍य होने के नाते कहा है कि कंपनी की ओर से भी उनको  भी मुआवजा दिलाया जाए ताकि परिवार की आर्थिक दिक्‍कत दूर हो सके। अन्‍यथा की स्थिति में परिजन भी आत्‍महत्‍या को विवश होंगे।

वाराणसी से अन्य समाचार व लेख

» दो लाख रुपये में अस्‍मत का सौदा दुष्कर्म पीडि़ता से रिश्वत लेने वाला दारोगा निलंबित

» मऊ और गाजीपुर जिले में गणतंत्र दिवस समारोह में दो स्‍कूलों में उतरा करेंट, पांच लोग झुलसे, एक वाराणसी रेफर

» पीएम मोदी ने कहा- देश में लूट होती रही और कांग्रेस सरकार देखती रही

» वाराणसी मे खरबपति बिल गेट्स को बना दिया स्टेनोग्राफर परीक्षा का अभ्यर्थी, चर्चा में फोटो और हस्ताक्षर

» वाराणसी मे BHU कुलपति से मिलने से रोका गया तो मुकदमा वापस करने को धरने पर बैठे छात्र

 

नवीन समाचार व लेख

» स्वास्थ्य केंद्र करहिया में डॉक्टर की जगह भैंसे और बच्चे मैदान में क्रिकेट खेलते है।

» मथुरा के शीला मैमोरियल कैंसर अस्पताल में जनजागरूकता करने के लिये गोष्ठी का आयोजन किया

» गांव में उड़ रही सफाई अभियान की धज्जियां

» कृष्णा नगर व्यापारियों ने नगर निगम के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

» मथुरा के शेरगढ़ मैं चोरों के हौसले बुलंद