यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पत्नी और प्रेमी को मारकर थाने पहुंचे हत्यारोपित


🗒 शुक्रवार, मई 27 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पत्नी और प्रेमी को मारकर थाने पहुंचे हत्यारोपित

आगरा, । दोपहर का समय। गली में बचाओ-बचाओ आवाज सुनकर सभी अपने दरवाजों पर खड़े हो गए। इसी बीच शिवम का पीछा करते आ रहे गौरव, उसके पिता और भाई ने उसे गिरा लिया। गौरव और उसके पिता ने शिवम के ऊपर डंडों से ताबड़तोड़ प्रहार किए। भाई अभिषेक ने 50 सेकंड में रुक-रुककर 25 वार किए। वह तब तक मारता रहा, जब तक उसकी सांसें नहीं थम गईं। इस दौरान गली में लोग तमाशबीन बने खड़े रहे। गली में एक घर के सामने लगे सीसीटीवी कैमरे से रुह कंपा देने वाला फुटेज सामने आया है।एत्माद्दौला के सुशील नगर में बृह्मापुरी में शिवम और पूजा की हत्या के बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे देखे। घटनास्थल से थोड़ी दूरी पर ही एक घर के सामने सीसीटीवी कैमरा लगा था। इसकी फुटेज पुलिस ने चेक की तो पूरी घटना सामने आ गई।सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि शिवम भागता हुआ गली के कोने पर पहुंचा है। पीछे से तीन लोग भाग रहे हैं। उन्होंने उसे खींचकर गिरा लिया। पुलिस के अनुसार, इनमें से गौरव और उसके पिता के हाथ में डंडे और भाई अभिषेक के हाथ में बांक दिखाई दे रहा है। डंडों और बांक से लगातार प्रहार होने से शिवम को उठने का मौका ही नहीं मिला।कुछ सेकंड के बाद गाैरव और उसके पिता मदन वहां से घर की ओर चले जाते हैं। मगर, अभिषेक वहीं खड़ा रहा। वह रुक-रुककर शिवम के ऊपर बांक से प्रहार करता रहा।बांक से इतनी तेजी से वार किए कि 50 सेकंड में 25 वार कर दिए। मौत की तस्दीक करने के बाद ही वह वहां से हटा। गली में एक व्यक्ति तो बिल्कुल पास ही खड़ा था। मगर, वह खड़ा-खड़ा देखता रहा। और भी करीब दर्जनभर लोग अपने घरों के गेट और बाहर खड़े थे। मगर, किसी ने शिवम को बचाने की कोशिश नहीं की।पुलिस को विवाहिता का शव घर के दरवाजे और प्रेमी की लाश गली में पड़ी मिली। दोहरे हत्याकांड की जानकारी होते ही एडीजी राजीव कृष्ण, एसएसपी सुधीर कुमार और एसपी सिटी विकास कुमार समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे।