आगरा मे 25 गज जमीन के लिए पुलिस के सामने युवक की भाले से गोदकर हत्या, छह घायल

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आगरा मे 25 गज जमीन के लिए पुलिस के सामने युवक की भाले से गोदकर हत्या, छह घायल


🗒 शनिवार, जून 01 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

ताजगंज के महुआ खेड़ा में 25 गज जमीन के लिए पुलिस और राजस्व टीम के सामने ही खूनी संघर्ष हो गया। एक पक्ष ने दूसरे पक्ष पर हमला बोल दिया। फायङ्क्षरग करने के बाद एक युवक को पकड़कर पुलिस के सामने ही भाले से गोदकर हत्या कर दी। फरसे और भालों से छह अन्य लोगों को घायल कर दिया। पुलिस और राजस्व टीम वहां से जान बचाकर भाग निकली। थाने से फोर्स पहुंचने के बाद दबिश देकर एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है। 

आगरा मे 25 गज जमीन के लिए पुलिस के सामने युवक की भाले से गोदकर हत्या, छह घायल

महुआ खेड़ा निवासी हरिओम सिंह यादव सेना में सूबेदार के पद पर हिसार में तैनात हैं। उन्होंने 12 मार्च को रतना देवी पत्नी पंकज सक्सेना से गांव में ही एक बीघा पांच बिस्वा जमीन खरीदी थी। इस जमीन के पास ही गांव के नवल सिंह का घर है। इस खेत की करीब 50 वर्गगज जमीन पर उन्होंने कब्जा कर रखा था। जमीन खरीदने के बाद हरिओम ने इसे खाली करने को कहा, लेकिन उसने एक फर्जी पेपर दिखाकर जमीन को अपना बताया। शनिवार को समाधान दिवस में शिकायत के बाद तोरा चौकी प्रभारी रोमित कुमार आर्या, कांस्टेबल उमेश कुमार, मनीष और संजय और लेखपाल भीमसेन और नारायण दत्त शर्मा मौके पर पहुंचे। पैमाइश में हरिओम की 50 वर्गगज जमीन पर नवल सिंह का कब्जा निकला। नवल से इसे खाली करने को कहा। पहले उसने एक फर्जी पेपर दिखाया। बात नहीं बनी तो वह निकलने के रास्ते के लिए थोड़ी जगह मांगने लगा। राजस्व टीम के कहने पर हरिओम ने उसे 25 वर्गगज जमीन दे दी। इसके बाद भी नवल पक्ष के मुकुंद ने घर में जाकर अंदर से ही एक हवाई फायर कर दिया। बाहर खड़े नवल ने शोर मचा दिया कि उसके बेटे को मार दिया। इसके बाद नवल पक्ष के लोगों ने फरसों और भालों से हमला बोल दिया। तमंचों से फायर भी किए। तीन लोगों ने हरिओम के भतीजे 26 वर्षीय बृजेश पुत्र राजवीर को पकड़ लिया। चौथे ने उसके सीने पर भाले से वार किए। पुलिस और राजस्व टीम वहां से भाग निकली। करीब 30 मिनट बाद सर्किल के पुलिस फोर्स के साथ सीओ सदर विकास जायसवाल पहुंचे। घायलों को जिला अस्पताल भिजवाया। वहां बृजेश को मृत घोषित कर दिया गया। घायल हरिओम, राजवीर, कृष्णकांत, शेर सिंह, मुन्नी देवी और संजू को एसएन इमरजेंसी में भर्ती कराया गया है। सीओ सदर विकास जायसवाल ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। आरोपित पक्ष के एक दर्जन लोग हिरासत में हैं। इनकी पहचान कराई जा रही है।

आगरा से अन्य समाचार व लेख

» एत्माद्दौला में पुलिस ने डकैती में वांछित 15 हजार के इनामी को दबोचा

» उमा भारती ने बसपा प्रमुख पर की टिप्पणी कहा आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रहीं माया

» आगरा मे नर्स ने डॉक्टर पर लगाया छेड़छाड़ का आरोप तो डॉक्टर भी बोला उत्पीड़न कर रह रही मेरा

» लखनऊ एक्‍सप्रेस वे पर ईद मनाकर लौटता परिवार हादसेे का शिकार

» ताजगंज के पाक टोला बवाल में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 300 लोगों पर हुआ मुकदमा

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ सिविल कोर्ट परिसर में पति ने बहाने से पत्‍नी को बुलाया परिसर में ही दे दिया तीन तलाक

» लखीमपुर में पति ने काटी पत्नी की नाक तीन पर मुकदमा दर्ज

» श्रावस्ती में निकाह के छह साल बाद भी नहीं थमी ये डिमांड, इन्‍कार पर बीवी को जिंदा जलाकर मार डाला

» राजधानी में रिश्तेदार से मिलने गया परिवार ,चोरों ने उड़ाया जेवर समेत घर का समान

» राजधानी के चिनहट क्षेत्र में दुष्कर्म करने वाला हैवान पिता फरार मां हिरासत में