यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

तेज रफ्तार से दौड़ती बस में क्षमता से ज्‍यादा थे यात्री हादसे में घायल ने बताई आपबीती


🗒 सोमवार, जुलाई 08 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

तेज गति से चलती बस, ओवरलोडिड सवारियां और दूसरे रूट का ड्राइवर। आज तड़के हुए भीषण हादसे के पीछे ये दो कारण सामने आए हैं। इस बात का प्रमाण कोई और नहीं बल्कि बस की एक सवारी ने ही दिया है। हादसे में घायल हुए प्रक्रेश ने बताया कि बस में लखनऊ से दिल्ली जाने वाली सवारियों की संख्या ज्यादा थी। दूसरा कारण गाजीपुर डिपो की बस चलाने वाले ड्राइवर और कंडक्टर को लखनऊ से दिल्ली जाने वाली बस लेकर भेज दिया गया, इन्हें रूट की जानकारी नहीं थी। तीसरा सबसे अहम कारण कि तेज गति से चल रही बस के चालक को नींद का वक्‍त होते ही झपकी लग गई और दो दर्जन से अधिक मौत हो गई।घायल प्रकेश ने बताया कि लखनऊ से गाजियाबाद के लिए रविवार रात रवाना हुई बस रात 12.30 बजे फूड प्लाजा पर रुकी थी। इसके बाद बस तेज गति से चलती रही। इस दौरान कंडक्टर का टिकट को लेकर सवारियों से विवाद भी हुआ। जिस वक्‍त हादसा हुआ उस वक्‍त सभी सवारियां सो रही थीं। यमुना एक्‍सप्रेस वे से झरना नाले में जैसे ही बस गिरी किसी को भी संभलने का मौका भी नहीं मिला। बस नाले में धमाके के साथ गिरी और गिरते ही पलट गई थी। रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन के दौरान जब बस को सीधा किया गया तो बस की छत पूरी तरह से अंदर की ओर धंस चुकी थी। सीट और छत के बीच आए यात्रियों पर मौत ने झपटटा मार दिया। 

तेज रफ्तार से दौड़ती बस में क्षमता से ज्‍यादा थे यात्री हादसे में घायल ने बताई आपबीती

आगरा से अन्य समाचार व लेख

» राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल पहुंचीं ताजनगरी, लिया मुहब्‍बत-द ताज शो का आनंद

» आरोही कातीसरा ऑडिशन सम्पन्न

» किशोरों पर लगा अनाथ आश्रम की युवती से गंदी हरकत करने का आरोप , अभियोग पंजीकृत

» भाजपा नेत्री हत्याकांड का हुआ खुलासा

» आगरा में राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह पहुंची

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर मे शोहदे ने टीशर्ट पर लिखा-हम नहीं सुधरेंगे, फिर मंदिर जा रही महिला से की छेड़छाड़

» कानपुर मे कांग्रेस के युवा नेता की हत्या, सिपाही के पुत्र ने दिनदहाड़े मारी गोली

» मेरठ मे मुठभेड़ के डर से कप्तान ऑफिस में एसपी सिटी के पैर पकड़कर शादाब ने किया सरेंडर

» संजय गांधी पीजीआइ नर्सेज एसोसिएशन गुरुवार से काला फीता बांधकर करेंगी विरोध प्रदर्शन

» लखनऊ विश्वविद्यालय एकाउंट घोटाले का सरगना मध्यप्रदेश में छिपा पुलिस टीम हुई रवाना