राऊफ को नहीं मिली जमानत, अब 16 को होगी सुनवाई

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राऊफ को नहीं मिली जमानत, अब 16 को होगी सुनवाई


🗒 बुधवार, मार्च 10 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
राऊफ को नहीं मिली जमानत, अब 16 को होगी सुनवाई

आगरा, । पापुलर फ्रंट आफ इंडिया की स्टूडेंट विंग कैंपस फ्रंट आफ इंडिया के राष्ट्रीय महासचिव केए राऊफ शरीफ को बुधवार को जमनात नहीं मिल सकी। जमानत अर्जी पर सुनवाई की अगली तारीख 16 मार्च नियत की गई है। उधर, अस्थाई जेल से एसटीएफ पापुलर फ्रंट आफ इंडिया के कमांडर अंसद बदरुद्दीन और उसके साथी को अपनी कस्टडी में लेकर नोएडा के लिए रवाना हो गई।पापुलर फ्रंट आफ इंडिया (पीएफआइ) की स्टूडेंट विंग कैंपस फ्रंट आफ इंडिया (सीएफआइ) के राष्ट्रीय महासचिव केए राऊफ शरीफ ने मथुरा में एडीजे प्रथम अनिल कुमार पांडेय की अदालत में जमानत के लिए प्रार्थना पत्र दिया था। इस पर बुधवार को सुनवाई हुई। जिला शासकीय अधिवक्ता शिवराम सिंह ने बताया, अदालत में अभियोजन पक्ष ने बताया कि केए राऊफ शरीफ के साथी पीएफआइ कमांडर अंसद बदरुद्दीन और फिरोज खान को जांच एजेंसी एसटीएफ ने पुलिस कस्टडी रिमांड पर लिया है। इसलिए विवेचक व्यस्त हैं। इसलिए आरोपित को जमानत नहीं दी जाए। केस डायरी विवेचक के पास है। इसलिए केए राऊफ शरीफ की जमानत पर सुनवाई नहीं हुई। उन्होंने बताया कि अब केए राऊफ शरीफ की जमानत अर्जी पर सुनवाई को 16 तारीख नियत की गई है। आरोपित के अधिवक्ता मधुवन दत्त चतुर्वेदी ने बताया, केस डायरी न होने के कारण आज सुनवाई नहीं हो सकी। इधर, एसटीएफ ने दोपहर में अस्थाई जेल से पीएफआइ कमांडर अंसद बदरुद्दीन और उसके साथी फिरोज खान को अपनी कस्टडी में ले लिया। तीसरे पहले में एसटीएफ दोनों को लेकर नोएडा पहुंच गई थी। दोनों को 12 मार्च तक के लिए 48 घंटे के रिमांड पर लिया गया है।सटीएफ की पूछताछ का मुख्य बिंदु पीएफआइ का हिट स्क्वाइड नेटवर्क रहेगा। अंसद बदरुद्दीन और फिरोज खान दोनों पीएफआइ के हिट स्क्वाइड के सदस्य हैं। पीएफआइ के हिट स्क्वाइड के सदस्यों का कार्य दंगा फसाद और जनहानि के लिए पीएफआइ के चिन्हित किए गए लड़कों को प्रशिक्षित किया जाना है। उनको हथियार चलाने और विस्फोटक का इस्तेमाल किए जाने का प्रशिक्षण देने का काम देश भर में करते हैं। हिट स्क्वाइड के संचालन के लिए धनराशि किन-किन स्रोतों से प्राप्त हो रही है। इसके पीछे कौन-कौन लोग काम कर रहे हैं। धनराशि किस माध्यम से प्राप्त कर किस तरह हिट स्क्वाइड तक पहुंचाई जा रही है। इसके साथ ही विस्फोटक सामग्री और अवैध हथियारों की आपूर्ति कौन और कहां से कर रहा है। इन बिंदुओं पर ही एसटीएफ के पूछताछ केंद्रित रहेगी। इसके साथ ही एसटीएफ पीएफआइ की गतिविधियां प्रदेश के किन शहरों में संचालित हो रही है। उनके पीछे क्या मकसद है। इसको लेकर भी पूछताछ की जाएगी।

आगरा से अन्य समाचार व लेख

» आगरा में मोबाइल चोरी के शक में युवक को पीटकर मार डाला

» आगरा में एकाउंटेंट ने दोस्त की पत्नी से दुष्कर्म कर बनाई वीडियो,

» आगरा में चाेरों ने ताले खोलकर पार की नकदी और गहने

» आगरा के गांव में तमंचा लेकर सड़क पर घूम रहा युवक, वीडियो वायरल

» आगरा पुलिस ने इनामी गैंगस्टर समेत चार शातिरों को किया गिरफ्तार

 

नवीन समाचार व लेख

» बिजनौर मे पैसों को लेकर कहासुनी, दावत के दौरान युवक की पीट-पीटकर हत्या

» लखनऊ में किशोरी से सरेआम छेड़छाड़ के बाद दो पक्षों में संघर्ष, जमकर हुआ पथराव; दारोगा चोटिल

» लोगों को मास्क पहनने के लिए करना होगा मजबूर - सीएम योगी

» गांवों में कोरोना रोकने के लिए सरकार की नई गाइडलाइंस जारी

» बहराइच में गर्भवती पर बनाया देह व्यापार का दबाव, इन्कार पर लाठी डंडों से पीटा; नवजात की मौत