यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

ठगी करने वाले गिरोह के सरगना समेत तीन दबोचे


🗒 बुधवार, अक्टूबर 13 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
ठगी करने वाले गिरोह के सरगना समेत तीन दबोचे

आगरा, । ताजगंज में काल सेंटर चलाने वाले हेलो गैंग के तीन सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरोह ताजमहल देखने के लिए आने वाले पर्यटकों को स्पा में युवतियों से मसाज कराने का झांसा देकर जाल में फंसाता था। साथ ही आनलाइन विज्ञापन देकर युवकों को प्ले ब्वाय बनाने का लालच देता था। पर्यटकों व युवकों से पंजीकरण शुल्क के नाम पर अपने खाते में रकम जमा करा लेता था।इंस्पेक्टर ताजगंज ओमहरि वाजपेयी ने बताया गिरफ्तार आरोपितों के नाम देवकी नंदन व रजत गुप्ता निवासी पिनाहट, शिव वर्मा निवासी कमला नगर हैं। आरोपितों से दो लैपटाप, सात मोबाइल, एक कार, स्कूटी व डायरी बरामद की है। गिरोह का सरगना देवकी नंदन है। गिरोह पहले ग्वालियर में काल सेंटर चलाता था। ताजगंज में तीन महीने पहले ही काल सेंटर खोला था।पुलिस को पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वह फर्जी आइडी पर सिम खरीदते थे। जिनका प्रयोग इंटरनेट मीडिया में विज्ञापन देने में करते थे। युवतियों को स्पा सेंटर में नौकरी दिलाने का झांसा देते थे। वहीं युवकों को प्ले ब्वाय बनने का लालच देते थे। वह आगरा आने वाले पर्यटकों को स्पा व मसाज के लिए युवतियों को भेजने का लालच देते थे। जिससे पर्यटक उनके झांसे में आ जाते थे। वह स्पा के लिए आनलाइन पर्यटकों से अपने खाते में रकम जमा करा लेते थे।बदनामी के डर से पर्यटक पुलिस में ठगी की शिकायत नहीं करता था। जबकि प्ले ब्वाय बनाने के नाम पर युवकों से 35 से 50 हजार रुपये ठग लेते थे। लोगों से रकम जमा कराने के बाद वह अपना मोबाइल नंबर बंद कर देते थे। इंस्पेक्टर ने बताया गिरोह आइपीएल क्रिकेट मैचों पर भी सट्टा लगाता था। लाखों रुपये के दांव लगाते थे। दो साल में खातों से हुआ 12 लाख का लेनदेनपुलिस ने बताया गिरोह के सरगना देवकीनंदन व उसके साथियों दो खातों के बारे में जानकारी मिली है। दो साल के दौरान इन खातों से 12 लाख रुपये के लेनदेन हुआ है। आरोपितों के अन्य खातों के बारे मे भी जानकारी की जा रही है।