यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बिजली विभाग के फर्जी अधिकारी बनकर कर रहे थे अवैध वसूली, गिरफ्तार


🗒 मंगलवार, जुलाई 19 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बिजली विभाग के फर्जी अधिकारी बनकर कर रहे थे अवैध वसूली, गिरफ्तार

अलीगढ़, : अलीगढ़ में अकराबाद के पनेठी क्षेत्र में विद्युत अधिकारी बनकर बिजली चेकिंग कर रहे दो लोगों को महंगा पड़ गया। ग्रामीणों ने दोनों को पकड़कर पुलिस को सौंपा है।गांव शेखा निवासी ईशु पुत्र दौजीराम ने थाने में दी तहरीर में बताया है। कि सोमवार को मेरी दुकान में दो लोग बिजली अधिकारी बनकर छापा मारने आए थे। कह रहे थे कि आप लोग चोरी से बिजली चला रहे हो और मुझसे बीस हजार रुपए की मांग करने लगे। जब मैंने घर वालों को बताया तो उन लोगों ने उनको पकड़ लिया।मामले में बिजली विभाग को सूचना दी जिस पर लाइनमैन अभिषेक कुमार मौके पर आ गए और दोनों लोगों को फर्जी बताया। इसके बाद दोनों लोगों को पकड़ कर पुलिस चौकी पर ले गए। जहां पुलिस पूछताछ में दोनों ने अपना नाम राजकुमार पुत्र भागीरथ गांव लोहिया थाना दौराला जनपद मेरठ व दूसरे का नाम देवेंद्र कुमार पुत्र मकरध्वज ग्राम राहुल विहार थाना विजय नगर जिला गाजियाबाद बताया है। विद्युत अधिकारियों ने इन्हें फर्जी बताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। मामले के संबंध में थाना प्रभारी राम वकील सिंह ने बताया है। दोनों लोगों को न्यायालय भेजा है।अलीगढ़ में एक दुकान पर दो लोग बिजली अधिकारी बनकर छापा मारने आए थे। कह रहे थे कि आप लोग चोरी से बिजली चला रहे हो और बीस हजार रुपए की मांग करने लगे। मामले में बिजली विभाग को सूचना दी जिस पर लाइनमैन अभिषेक कुमार मौके पर आ गए और दोनों लोगों को फर्जी बताया। इसके बाद दोनों लोगों को पकड़ कर पुलिस चौकी पर ले गए। विद्युत अधिकारियों ने इन्हें फर्जी बताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। मामले के संबंध में थाना प्रभारी राम वकील सिंह ने बताया है। दोनों लोगों को न्यायालय भेजा है।पुलिस पूछताछ में दोनों ने अपना नाम राजकुमार पुत्र भागीरथ गांव लोहिया थाना दौराला जनपद मेरठ व दूसरे का नाम देवेंद्र कुमार पुत्र मकरध्वज ग्राम राहुल विहार थाना विजय नगर जिला गाजियाबाद बताया है। विद्युत अधिकारियों ने इन्हें फर्जी बताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। मामले के संबंध में थाना प्रभारी राम वकील सिंह ने बताया है। दोनों लोगों को न्यायालय भेजा है।