यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला अलीगढ़ में गैस सिलेंडर फटने से दो की मौत, तीन घायल


🗒 गुरुवार, जनवरी 10 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

देहली गेट क्षेत्र के एडीए कालोनी शाहजमाल में गुरुवार की दोपहर एक कारखाने में सिलेंडर फटने से दो मजदूरों की मौत हो गई, जबकि तीन घायल हो गए। उन्हें जेएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। मरने वालों में एक ही शिनाख्त नहीं हो सकी थी। विस्फोट घरेलू सिलेंडर में हुआ था। बैल्डिंग के काम कें लगे अधिकांश मजदूर 16 साल की उम्र से कम थे। पुलिस ने मामले की जांच में जुट गई है। कारखाने में उंगली के लोहे के छल्ले पर बैल्डिंग करने का काम हो रहा था।

जिला अलीगढ़ में गैस सिलेंडर फटने से दो की मौत, तीन घायल

दस दिन में सिलेंडर फटने से शहर में दूसरा हादसा हुआ है। तीस दिसंबर को सिविल लाइंस क्षेत्र के हमदर्द नगर में रीफिलिंग के दौरान दो सिलेंडर फटने से पूरा इलाका थर्रा गया था। इसमें दुकानदार मामूली रूप से झुलस गया था। भवन ध्वस्त हो गया था। दमकल ने 20 मिनट में आग पर काबू पाया। जीवनगढ़ निवासी चांद ने हमदर्द नगर ए में 24 फुटा रोड पर अलीमुद्दीन के मकान में दुकान किराये पर ले रखी थी। यहां वह गैस चूल्हा रिपेयरिंग  करता था। इसकी आड़ में गैस रीफिलिंग का भी काम होता था। शाम साढ़े चार बजे वह पांच लीटर के सिलेंडर में घरेलू सिलेंडर से रीफिलिंग कर रहा था, तभी सिलेंडर में आग लग गई। चांद ने पहले आग बुझाने की कोशिश की, नाकाम रहा तो अन्य कर्मचारियों के साथ दुकान के बाहर आ गया था। वह झुलस भी गया था। कुछ ही क्षण बाद घरेलू सिलेंडर फट गया था।  इसके बाद एक अन्य सिलेंडर भी फटा था। आग लगने से दुकान का फर्नीचर जल गया, दीवारें भी चटक गईं थी। चांद के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया था जनवरी- 14 में आइटीआइ रोड पर भीषण हादसा हुआ था। मुस्ताक नगर निवासी मुल्ला खां और उसका बेटा हसन खान आईटीआई के सामने वाली पट्टी पर मेवाराम मार्केट में राज किचिन सेंटर के नाम से दुकान चलाते थे। इनके पास दो दुकानें थीं। छोटे गैस सिलेंडर बेचने के अलावा रिफलिंग भी की जाती थी। मार्केट के पीछे ही एक गोदाम भी बना रखा था। 21 जनवरी की दोपहर बड़े सिलेंडर से छोटे सिलेंडर में गैस रिफलिंग की जा रही थी। इसी दौरान आग लग गई। कुछ ही मिनट में सिलेंडर धमाके के साथ फटने लगे। एक के बाद एक 14 सिलेंडर फटे थे। किचिन सेंटर के अलावा अन्य दुकानों की छतें उड़ गईं थीं। प्रकरण में मुकदमा भी दर्ज हुआ। इसके अलावा बन्नादेवी के बीमानगर में बीते वर्ष सितंबर सिलेंडर फटने से दो लोगों की मौत हो गई, कई मकान क्षतिग्रस्त हुए थे। सासनीगेट क्षेत्र में गैस रिफलिंग के दौरान एक मकान में आग लग गई। इस तरह के कई अन्य हादसे हो चुके हैं।

अलीगढ़ से अन्य समाचार व लेख

» जिला अलीगढ़ में बच्ची की हत्या के मामले में टप्पल थाने के इंस्पेक्टर लाइन हाजिर, संजय ने संभाला चार्ज

» अलीगढ मे चार दिन से गायब बच्ची की हत्या; कूड़े के ढेर में मिला शव

» अलीगढ मे पुलिस के सामने आगरा के नेता को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

» अलीगढ़-:बनारस स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी के बाद अलीगढ़ में सघन चेकिंग

» आज जनता दरबार में आई 20 शिकायते डीएम ने दिए संबंधित अधिकारियों को गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के निर्देश

 

नवीन समाचार व लेख

» सपा विधायक का मायावती पर गंभीर आरोप,यदि यूपी में गठबंधन नहीं हुआ होता तो .बसपा को मिलता जीरो और सपा को 25 सीटें

» हजरतगंज पुलिस ने 200 करोड़ की ठगी में रोहतास का वॉइस प्रेसीडेंट को गिरफ्तार किया

» राजधानी मे पांच लाख की सुपारी देकर व्यवसायी ने कराई प्रॉपर्टी डीलर की हत्या

» लखनऊ मे अपार्टमेंट से गिरकर नहीं हुई थी कारोबारी की मौत, हत्या की रिपोर्ट दर्ज

» BSP का SP के साथ गठबंधन से मोहभंग, 11 सीटों पर विधानसभा उप चुनाव अकेले लड़ने की तैयारी