यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अलीगढ़ मे खाली सिलिडर फेंक गए, भरा ले भागे युवक


🗒 बुधवार, मई 05 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
अलीगढ़ मे खाली सिलिडर फेंक गए, भरा ले भागे युवक

अलीगढ़: सांसों पर ऐसा आपातकाल भी आएगा, किसी ने सोचा नहीं थी। आक्सीजन को लेकर मची मारामारी अब चरम पर पहुंच गई है। दीनदयाल कोविड अस्पताल में बुधवार तड़के ऐसी घटना हुई, जिसने अस्पताल प्रबंधन ही नहीं, हर किसी को चौंका दिया। करीब पांच बजे का वक्त था। कोविड हेल्प डेस्क के पास कुछ कर्मचारी अलसाये से और ऊंघ रहे थे। तभी स्लेटी रंग की स्कूटी पर सवार दो युवक आए। उनके पास छोटा खाली आक्सीजन सिलिडर था, जिसे लेकर वे हेल्प डेस्क-टू के पास पहुंचे। उन्होंने अपना सिलिडर नीचे रख दिया और कर्मचारी से नया सिलिडर मांगा। बोले, मरीज काफी सीरियस है, उसे तुरंत आक्सीजन की जरूरत है। इस बीच चार-पांच लोग और आ गए, जो युवकों के ही साथ थे। कर्मचारी ने कहा कि यहां पर आक्सीजन नहीं मिलती। यह सुनकर युवकों ने एक-दूसरे की तरफ देखा। आंखों ही आंखों में इशारा हुआ। फिर क्या था एक युवक ने पास ही रखा भरा सिलिडर उठा लिया। कर्मचारी ने रोकने की कोशिश भी की, लेकिन वे लोग स्कूटी पर बैठकर फरार हो गए। यह घटना अस्पताल में चर्चा का विषय बनी रही। मरीजों व तीमारदारों की नजर में यह आक्सीजन लूटने की घटना नहीं थी, बल्कि किसी अपने की जिदगी बचाने की जिद्दोजहद थी, जिसमें आक्सीजन के बिना कुछ संभव नहीं। हालांकि, उनका तरीका गलत था, जिसका समर्थन नहीं किया जा सकता। सवाल ये है कि इस तरह आक्सीजन की व्यवस्था करने की जरूरत मरीज के तीमारदारों को क्यों पड़ी? बहरहाल, अस्पताल प्रबंधन ने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस को सूचना दे दी है। नवागत सीएमएस डा. वीके सिंह ने बताया कि युवकों के खिलाफ आक्सीजन लूटने की रिपोर्ट दर्ज कराई जा रही है। हालांकि, अभी यह पता नहीं चला है कि युवक कौन थे? और कहां से आए थे?