यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

औरैया में भूख ने मंदबुद्धि युवक को मौत के मुहाने पर पहुंचाया


🗒 शनिवार, मई 29 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
औरैया में भूख ने मंदबुद्धि युवक को मौत के मुहाने पर पहुंचाया

औरैया,। बिधूना कोतवाली क्षेत्र के चंदैया गांव में शनिवार को इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। पेट में लगी भूख की आग ने एक मंदबुद्धि युवक को मौत के मुहाने तक पहुंचा दिया। मरणासन्न अवस्था में युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, पुलिस ने घटना की जानकारी पर जांच करने की बात कही है।बिधूना कोतवाली क्षेत्र की रुरुगंज चौकी क्षेत्र के चंदैया गांव की घटना है। गांव में रहने वाले दीपचंद का बेटा संजीव मंदबुद्धि है और ऐसे ही पूरे गांव में घूमा करता है। इधर-उधर मिलने वाले खाने से अपनी भूख मिटा लेता है। शुक्रवार की रात उसे भूख लगी तो गांव के बाहर खेत पर पहुंच गया। खेत में लगे तरबूज को उसने तोड़ दिया तो रखवाली कर रहे लोगों ने डांटना शुरू कर दिया। उसे घेरकर फटकार लगाई और तरबूज छीनने का प्रयास किया। उसने तरबूज को कसकर अपने पेट में दबा लिया। तरबूज न देखने पर खेत की रखवाली करने वाले गुस्सा गए और उसकी पिटाई शुरू कर दी। पिटते हुए भी उसने तरबूज को हाथ से नहीं छोड़ा।किसी ने उसे कुल्हाड़ी मार दी, खून से लथपथ होते ही वह निढाल मरणासन्न हालत में जमीन पर गिरकर बेहोश हो गया। उसकी हालत देखकर हमलावर फरार हो गया। वह पूरी रात खून से लथपथ पड़ा मौत से जूझता रहा। शनिवार तड़के खेत जा रहे ग्रामीणों की नजर उसपर पड़ी तो पहचान के बाद स्वजन को घटना की जानकारी दी। ग्रामीणों की मदद से स्वजन ने उसे गंभीर हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिधूना में भर्ती कराया। पिता दीपचन्द राजपूत ने मंतबुद्धि बेटे की ऐसी हालत करने वालों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू कर दी है।