यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुलायम के साढ़ू प्रमोद गुप्ता समेत पांच पर हत्या का मुकदमा


🗒 गुरुवार, फरवरी 24 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मुलायम के साढ़ू प्रमोद गुप्ता समेत पांच पर हत्या का मुकदमा

औरैया, । बिधूना कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत आर्यनगर वनखंडेश्वर मंदिर के पीछे गुरुवार सुबह 28 वर्षीय अनुज का शव पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटके मिलने के मामले में सपा संरक्षक मुलायम सिंह के साढ़ू प्रमोद गुप्ता समेत पांच लोगों पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में नामजद युवती ने युवक पर बहन से दुष्कर्म और मारपीट का आरोप लगाते हुए तीन दिन पहले शिकायत की थी। वहीं आरोपित युवक की मौत के बाद घरवालों ने अब युवती और उसके परिवार पर हत्या और इसमें पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता के शामिल होने का आरोप लगाया है। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू की है। प्रमोद गुप्ता चुनाव के दौरान ही सपा छोड़कर भाजपा में शामिल हुए हैं।आर्यनगर मोहल्ला निवासी अनुज घर के पास सब्जी मंडी में काम करता था। 22 फरवरी को युवती ने बहन से दुष्कर्म और उलाहना देने पर अनुज के बड़े भाई बलराम व कुछ लोगों पर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी थी। पुलिस ने बलराम व चचेरे भाई योगेंद्र को पकड़ लिया था और अनुज की तलाश कर रही थी। गुरुवार की सुबह करीब सात बजे अनुज का शव वनखंडेश्वर मंदिर के पीछे खेत में आम के पेड़ पर लटका मिला। इसके बाद घर वालों और बहन अर्चना ने युवती के परिवार समेत पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता पर भाई की हत्या करके शव पेड़ पर लटकाने का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी। उसने कहा कि भाई पर झूठा मुकदमा दर्ज कराया गया था और इसमें पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता एलएस ने दबाव बनाकर पांच लाख रुपये में समझौता कराया था। इसके बाद तहरीर वापस ली गई।वहीं प्रभारी निरीक्षक शशि भूषण मिश्रा ने बताया कि सुसाइड नोट मिला लेकिन उसमें किसी पर कोई आरोप नहीं है। जिस युवती द्वारा तहरीर दी गई थी उसने समझौता होने पर तहरीर वापस ली थी। फिलहाल मृतक की बहन की तहरीर के आधार पर पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता एलएस समेत पहले तहरीर देने वाली युवती, उसकी बहन व मां-भाई पर हत्या, साक्ष्य छिपाने, साजिश रचने समेत आदि धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई है। अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। इस मामले में पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता एलएस का कहना है कि उन्हें मामले की जानकारी नहीं, इस समय वह बलिया चुनाव में व्यस्त हैं।