यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जेई को एंटी करप्शन की टीम ने पांच हजार रुपये रिश्वत लेते समय किया गिरफ्तार


🗒 शनिवार, जुलाई 27 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

विद्युत बिल संशोधन करने के नाम पर एक उपभोक्ता से पांच हजार रुपये रिश्वत लेते समय विद्युत उपकेंद्र के जेई को एंटी करप्शन की टीम, गोरखपुर के अधिकारियों ने शुक्रवार को रंगेहाथ पकड़ लिया। पकड़े गए जेई के खिलाफ जीयनपुर कोतवाली में भ्रष्टाचार का मुकदमा दर्ज कराने के बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया।विद्युत उपकेंद्र अमुवारी नरायणपुर पर तैनात अवर अभियंता छोटेलाल द्वारा उपभोक्ताओं का बिल बढ़ाकर उसे संशोधन के नाम पर धन उगाही की लंबे दिनों से उपभोक्ता शिकायत कर रहे थे। इसके बाद भी उक्त अवर अभियंता के खिलाफ विभागीय अधिकारी कार्रवाई नहीं कर रहे थे। अमुवारी नरायणपुर गांव के टेकनगाढ़ा निवासी जगपत पुत्र स्व. रघुनाथ ने भ्रष्टाचार निवारण संगठन गोरखपुर पहुंच कर उक्त अवर अभियंता के खिलाफ शिकायत दर्ज कराते हुए कार्रवाई की गुहार लगायी थी। पीडि़त का आरोप था कि अवर अभियंता ने उसके वास्तविक 24 हजार रुपये के बिजली बिल को अपने आईडी से बढ़ाकर एक लाख 58 हजार 462 रुपये कर दिया। वह जब बिल संशोधन कराने के लिए उक्त अवर अभियंता के पास गया तो उन्होंने रिश्वत के तौर पर उससे 15 हजार रुपये की मांग करते हुए उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की धमकी देने लगे।उसने डरकर किसी तरह से दस हजार रुपये जुटाकर अवर अभियंता को दिया और शेष पांच हजार रुपये बाद में देने के लिए समय मांगा। इधर पीडि़त उपभोक्ता ने सामाजिक संगठन प्रयास के अध्यक्ष रणजीत सिंह से मिलकर उन्हें अपनी पूरी बात बतायी। प्रयास संगठन के माध्यम से पीडि़त भ्रष्टाचार निवारण संगठन गोरखपुर के क्षेत्रीय कार्यालय पहुंचा।पीडि़त की शिकायत पर एंटी करप्शन टीम गोरखपुर के प्रभारी इंस्पेक्टर डीपी रावत, इंस्पेक्टर रामधारी, चंद्रेश यादव, एके सिंह, शैलेन्द्र राय, चन्द्रभान मिश्र शुक्रवार को जिले पर आए। उन्होंने डीएम से मिलकर पूरी बात बतायी। डीएम ने सरकारी गवाह के रूप में पीडब्लूडी के वरिष्ठ सहायक पवन श्रीवास्तव, सीएमओ कार्यालय में तैनात कनिष्ठ सहायक मनोज कुमार यादव को टीम के साथ लगाया। एंटी करप्‍शन टीम के अधिकारी पीडि़त को लेकर अमुवारी नरायणपुर विद्युत उपकेंद्र पर पहुंचे। पीडि़त ने जैसे ही अवर अभियंता छोटेलाल को रिश्वत का पांच हजार रुपये थमाया तभी टीम के अधिकारियों ने उन्हें रंगेहाथ पकड़ लिया। 

जेई को एंटी करप्शन की टीम ने पांच हजार रुपये रिश्वत लेते समय किया गिरफ्तार

आजमगढ़ से अन्य समाचार व लेख

» आजमगढ़ में इलाहाबाद से गोरखपुर जा रही जनरथ बस खड़े ट्रक में भिड़ी, दो यात्रियों की हालत गंभीर

» जिला आजमगढ़ में रुपये मांगने पर कहासुनी के दौरान दो पक्षों में चले लाठी डंडे, कई लोग हुए घायल

» आजमगढ़ मे शराब की दुकान पर सो रहे सेल्समैन की संदिग्ध हालत में मौत

» आजमगढ़ से प्रतिबंधित संगठन सिमी का निवर्तमान अध्यक्ष गिरफ्तार

» जिलाआजमगढ़ में पुलिस फोर्स के साथ डीएम व एसपी ने जेल में मारा छापा, बंदियों की भी सघन तलाशी

 

नवीन समाचार व लेख

» जनपद कौशांबी मे दो दिन से लापता था दिव्यांग, कुएं में मिली लाश

» जिला वाराणसी में पेट्रोल पंप पर पति ने पत्नी और उसके प्रेमी को सरेराह पीटा

» जिला वाराणसी में दिनदहाड़े असलहा सटाकर दुकान से महिला की चेन और अंगूठी की हुई लूट

» लखनऊ में पारा थाने की पुलिस ने दो जालसाजों को किया गिरफ्तार

» अखिलेश यादव झांसी में पुलिस एनकाउंटर में मारे गए पुष्पेंद्र के परिवार के लोगों से नौ को मिलेंगे