यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिलाआजमगढ़ में पुलिस फोर्स के साथ डीएम व एसपी ने जेल में मारा छापा, बंदियों की भी सघन तलाशी


🗒 बुधवार, सितंबर 04 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

दो दिन पूर्व जेल के अंदर बंदियों के मोबाइल पर बातचीत का वीडियो वायरल होने के मामले को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया। डीएम व एसपी ने बुधवार को पुलिस फोर्स के साथ जिला कारागार में आकस्मिक छापा मारा। छापे के दौरान पुलिस ने बैरकों के साथ ही बंदियों की सघन तलाशी करायी। इतना ही नहीं आला अधिकारियों के आदेश पर मोबाइल छुपाने की अंदेशा पर कुछ स्थलों की जमीनों की खोदाई भी करायी लेकिन कुछ खास हाथ नहीं लगा। इस दौरान दो बंदियों के पास से बेल्ट जरूर मिला।सख्ती के बाद भी जेल के अंदर निरुद्ध बंदियों के आपस की बातचीत सोशल मीडिया पर वायरल होना सामान्य बात नहीं। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम ने जांच कराए जाने का आदेश दिया था। बुधवार को सुबह लगभग आठ बजे डीएम नागेंद्र प्रसाद ङ्क्षसह, एसपी प्रो. त्रिवेणी ङ्क्षसह पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ फोर्स लेकर आकस्मिक निरीक्षण के लिए इटौरा जिला कारागार में पहुंच कर छापा मारा। छापेमारी के दौरान डीएम व एसपी ने चार टीमें बनायी। चारों टीम एक साथ अलग-अलग बैरकों में पहुंच कर छापेमारी शुरू कर दी। उन्होंने बंदियों के साथ ही बैरकों व उनके सामानों की गहन तलाशी लेनी शुरू की। इस दौरान दो बंदियों के पास से चमड़े का बेल्ट मिलने पर उसे जब्त कर लिया।मोबाइल की तलाश में अधिकारियों ने अपनी मौजूदगी में जेल की जिस भूमि व दीवार में मोबाइल चुराकर छुपाकर रखने की आशंका हुई उसे खुदवाकर भी देखा। बैरक व हाते के साथ पूरे जेल परिसर की चच्पे चप्पे को खंगाल डाला। लेकिन कहीं से कोई भी मोबाइल, सिम व चार्जर आदि नहीं मिला। एसपी ने बताया कि मोबाइल व सिम की तलाश करने वाली मशीन मंंगवायी जा रही है। इसके बाद उक्त मशीन से जेल को खंगाला जाएगा। जमीन व दीवार में कहीं भी मोबाइल व सिम छिपाकर रखा गया होगा तो मशीन की मदद से उसे ढूढ़ निकाला जाएगा। सुबह आठ बजे से लेकर ग्यारह बजे तक अधिकारियों ने बैरकों के साथ ही अस्पताल, भोजनालय, कैंटीन, किशोर व महिला बैरकों की भी तलाशी करायी। तीन घंटे तक चले छापेमारी की कार्रवाई से बंदियों के बीच हड़कंप सरीखा स्थिति रही। छापेमारी में डीएम, एसपी के अलावा एसपी सिटी पंकज कुमार पांडेय, एसपी ग्रामीण एनपी सिंह, सीओ सदर मोहम्मद अकमल खान, सीओ नगर इलामारन जी, एसडीएम सदर प्रशांत कुमार नायक के साथ ही काफी संख्या में पुलिस फोर्स भी मौजूद रही। 

जिलाआजमगढ़ में पुलिस फोर्स के साथ डीएम व एसपी ने जेल में मारा छापा, बंदियों की भी सघन तलाशी

आजमगढ़ से अन्य समाचार व लेख

» आज़मगढ़ में पिता के बाद पुत्र और पुत्री भी covid-19 से संक्रमित मिले

» आज़मगढ़ जिले में एक और मरीज Covid-19 से संक्रमित जिले में चार

» आज़मगढ़ में पूर्व सांसद के आवास पर खाद्यान्न वितरण में भीड़ जुटाने पर डीआइजी के आदेश पर मुकदमा

» आजमगढ़ में तब्लीगी से जुड़े जमात के तीन व्यक्तियों की Covid-19 Report पॉजिटिव

» आजमगढ़ में कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव के लिए 40 कुंतल मछलियां मरीं भय से नहीं हुई बिक्री

 

नवीन समाचार व लेख

» बांदा -आन लाइन पाठ्य क्रम शुरु- जिला विद्यालय निरीक्षक

» बांदा नही हुआ कोरोना मुक्त दूसरे युवक की रिपोर्ट फिर आयी पाजिटिव

» प्रेस क्लब आफ यूपी की अगुवायी मे पत्रकारों व जरूरत मंद लोंगो मे बाटे गए मास्क

» जान जोखिम में डाल ड्यूटी कर रहे दारोगा से मारपीट

» लाक डाऊन मे उलंघन करने वालो को पुलिस ने सिखाया सबक