यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ में भाजपा नेता और हिंदू महासभा के जिला महामंत्री के बीच मारपीट


🗒 बुधवार, दिसंबर 16 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ में भाजपा नेता और हिंदू महासभा के जिला महामंत्री के बीच मारपीट

आजमगढ़,  रौनापार थाने में अपना- अपना वर्चस्व कायम करने को लेकर बुधवार को दिन में भाजपा नेता और हिंदू महासभा के जिला महामंत्री थाना परिसर में खाकी के सामने ही आपस में भिड़ गए। इस दौरान दोनों पक्षों में पहले कहासुनी हुई और बाद में जमकर मारपीट हुई। वर्दीधारी के सामने ही नेताओं व उनके समर्थकों के बीच मारपीट देख पुलिस भी अवाक रह गई। पुलिस ने दोनों नेताओं सहित पांच लोगों को हिरासत में ले लिया। जानकारी होने पर भाजपा के मंडल स्तर के नेता थाने पर पहुंच गए और समझौता करा दिया। पुलिस ने भाजपा नेता समेत दो लोगों का शांति भंग की धारा में चालान कर दिया। हालांकि पुलिस इस मामले में कुछ कहने से बच रही है।रौनापार क्षेत्र के एक पखवारा पूर्व रिजवान अहमद की चार पहिया वाहन से रौनापार निवासी संजीव कुमार का एक्सीडेंट हो गया था। इस मामले को लेकर हिंदू महासभा के जिला महामंत्री आशीष गुप्त घायल संजीव कुमार के पक्ष में पैरवी कर रहे थे। जबकि अतरौलिया विधानसभा क्षेत्र के भाजपा नेता सरवन निषाद रिजवान अहमद की तरफ से पैरवी कर रहे थे। दोनों पक्ष समझौता कराने के बजाय एक दूसरे को देख लेने की धमकी भी देते रहें। बुधवार की दोपहर लगभग 12बजे  सरवन निषाद रौनापार थाने में रिजवान का  पैरवी करने आए थे। इसी बीच संजीव कुमार की पैरवी कर रहे  हिंदू महासभा के जिला महामंत्री आशीष गुप्त भी थाने पर आ धमके। आमने-सामने होते ही दोनों नेता  पैरवी को लेकर भीड़ गए और उनमें  कहासुनी शुरू हो गई। कहासुनी के दौरान  दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। थाना परिसर में ही भाजपा नेता व ङ्क्षहदू महासभा के जिला महामंत्री व उनके समर्थक के बीच मारपीट होते देख पुलिस हरकत में आ गई। पुलिस ने दोनों नेताओं सहित 5 लोगों को हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए गए आशीष गुप्त, सरवन निषाद, नीरज गुप्त, श्याम सुंदर यादव, अंकुर गुप्त शामिल रहे।नेताओं के बीच थाने में मारपीट होने की जानकारी होते ही  मंडल स्तर के नेता थाने पर पहुंच गए। दोनों पक्षों में सुलह समझौता करा दिया गया। समझौता के बाद पुलिस ने भाजपा नेता सरवन निषाद व आशीष गुप्त के समर्थक श्याम सुंदर यादव का चालान कर दिया। पूछे जाने पर  थानाध्यक्ष नवल किशोर सिंह अभी कुछ कहने से बच रहे हैं।