यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ में सिरफिरे सेवानिवृत्त फौजी ने गाय को मारी गोली,


🗒 गुरुवार, दिसंबर 17 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ में सिरफिरे सेवानिवृत्त फौजी ने गाय को मारी गोली,

आजमगढ़,। सिरफिरे सेवानिवृत्त फौजी की करतूत ने लोगों को कंपा दिया। उसने गाय को खेत में चरते देख इस कदर आपा खो दिया कि उसे गोली मार दी। दिल दहला देने वाली घटना की भनक लगते ही लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। जीयनपुर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर बंदूक को बरामद कर लिया है। घटना की चर्चा इलाके में पूरे दिन सुर्खियों में बनी रही।देवपुर कमालपुर गांव निवासी सेवानिवृत फौजी छुन्नू लाल पुत्र हरिश्चंद्र लाल मऊ जिले के खुरहट रेलवे पर सुरक्षा गार्ड (अस्थाई) के पद पर तैनात है। वह गुरुवार की सुबह लगभग नौ बजे अपने गेहूं के खेत की रखवाली करने गया था। वहां एक बेसहारा गाय चर रही थी। ग्रामीणों का कहना है कि गाय को फसल चरते देख फौजी चीख पड़ा। उसने अपनी एक नाली लाइसेंसी बंदूक से गोली चला दी। गोली लगते ही गाय खेत में ही ढेर हो गई। गाय को मार डालने की खबर से इलाकाई लोग आपा खो बैठे। किसी ने पुलिस को इत्तला दी तो जीयनपुर कोतवाल नंद कुमार तिवारी मौके पर जा पहुंचे। उन्होंने आरोपित को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त लाइसेंसी बंदूक कब्जे में ले लिया। उसके बाद पशु चिकित्सा अधिकारी डाक्टर डीआर मौर्य को बुलाकर पोस्टमार्टम कराया। पुलिस ने निकट स्थित एक भूमि पर शव को दफना दिया। पुलिस ने गोवध निवारण अधिनियम एवं 30 आम्र्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्जकर लिया है।

आजमगढ़ से अन्य समाचार व लेख

» आजमगढ़ के बसपा नेता की दुबई में बनी थी हत्या की योजना, तीन शूटरों ने दिया घटना को अंजाम

» आजमगढ़ में दुष्कर्म में असफल हुए रिश्ते के चाचा ने किशोरी को मार डाला

» आजमगढ़ में पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या

» आजमगढ़ में ट्रैक्टर से कुचलकर छात्रा की मौत

» आजमगढ़ में बदमाशों ने सपा नेता को गोली मारी, गंभीर हालत

 

नवीन समाचार व लेख

» युवती के मोबाइल पर आ रहे थे अश्लील मैसेज, वीमेन पावर लाइन में शिकायत

» सीसी कैमरे में नायब सूबेदार के साथ दिखा सूबेदार

» लखनऊ में 27 निजी समेत 78 अस्पतालों में लगेगी वैक्सीन

» श्रावस्ती में छापेमारी में बरामद हुई 10 लाख की खैर की लकड़ी

» यूपी सचिवालय के समीक्षा अधिकारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत