यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ में निवर्तमान प्रधान के पति की गोली मारकर हत्‍या


🗒 सोमवार, जनवरी 18 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ में निवर्तमान प्रधान के पति की गोली मारकर हत्‍या

आजमगढ़,। सोमवार की रात दो बाइकों से पहुंचे चार बदमाशों ने अमौड़ा गांव में निर्वतमान प्रधान अर्चना राय के पति को गोलियों से भून डाला। उन्हें स्वजन आनन-फानन में वाराणसी लेकर भागे, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। बदमाशों ने गांव के बाहर ही सुनियोजित तरीके से वारदात को अंजाम दिया। घटना की ठोस वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। पुलिस वारदात के घंटों बाद तक कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं थी। गोली मारे जाने की घटना के बाद गांव में तनाव व्याप्त हो गया।अमौड़ा गांव निवासी मनीष राय (35) पुत्र सुरेंद्र राय की पत्नी अर्चना गांव की निर्वतमान प्रधान हैं। मनीष रात में करीब आठ बजे गांव के मुख्य रोड पर स्थित सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के निकट दो सिपाहियों से बात की। वे सिपाहियों के जाने के बाद अंडा की दुकान पर बैठकर अंडा खाने लगे। ग्रामीणों का कहना है कि उसी दौरान दो बाइक से चार सशस्त्र बदमाश अचानक धमक पड़े। मनीष कुछ समझ पाते कि उससे पूर्व ही बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। कई गोलियां लगने से लहूलुहान मनीष गिर पड़े। बदमाशों के भागने के बाद उन्हें ग्रामीणों की मदद से निकट के एक अस्पताल ले जाया गया। डाक्टर ने उन्हें वाराणसी के लिए रेफर कर दिया, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई। मनीष के चाचा उमाशंकर राय की भी डेढ़ वर्ष पूर्व गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उस केस में मनीष ही मुख्य पैरवीकार थे। स्वजनों का यह भी कहना है कि प्रधानी के चुनाव को भी लेकर उनकी रंजिश चल रही थी। गंभीरपुर इंस्पेक्टर ज्ञानू प्रिया मौके पर पहुंच छानबीन में जुट गईं थीं। हालांकि, वारदात के बारे में देर रात तक कुछ भी स्पष्ट रूप से नहीं बता पा रहीं थीं।