यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ में कर्ज में डूबे किसान ने फांसी लगाकर दी जान


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 02 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ में कर्ज में डूबे किसान ने फांसी लगाकर दी जान

आजमगढ़,। दीदारगंज थाना क्षेत्र के करुई गांव के सिवान में शुक्रवार की सुबह बगीचे में पेड़ से लटकता बेचन यादव (55) का शव पाया गया। उन्होंने बैंक से लोन लिया था, जिसे जमा करने के लिए 20 दिन पहले नोटिस आया था। मृतक पुत्र पंकज ने बताया कि तभी से पिताजी बहुत परेशान रहते थे। दो दिन पूर्व हम लोगों से कहा कि कमाने के लिए दिल्ली जा रहा हूं और वहां से लौटकर सारा कर्जा चुका दूंगा लेकिन कब कैसे क्या हो गया, यह समझ में नहीं आ रहा है।दीदारगंज थाना क्षेत्र के करुई गांव के सिवान में शुक्रवार की सुबह कर्ज में डूबे किसान बेचन यादव (55) ने आम के पेड़ से लुंगी के सहारे लटककर जान दे दी। घटना की जानकारी मिलने पर परिवार में कोहराम मच गया।उन्होंने बैंक से लोन लिया था, जिसे जमा करने के लिए 20 दिन पहले नोटिस आया था। मृतक के पुत्र पंकज ने बताया कि नोटिस आने के बाद से पिताजी बहुत परेशान रहते थे। दो दिन पूर्व हम लोगों से कहा कि कमाने के लिए दिल्ली जा रहा हूं। वहां से लौटूंगा तो सारा कर्जा चुका दूंगा, लेकिन इस बीच क्या हो गया समझ नहीं पा रहा हूं।पंकज के अनुसार उनके पिता ने बैंक से कुछ लोन लिए थे, जिसका ब्याज बढ़कर ढाई लाख रुपये हो गए थे। 20 दिन पूर्व बैंक से नोटिस आया कि जल्द से जल्द पैसा जमा करें। उसके बाद से मेरे पिता परेशान रहने लगे थे। उनके दिल्ली जाने पर परिवार में सहमति भी बन गई थी, लेकिन उसी बीच उन्होंने आत्मघाती कदम उठाया लिया। मृतक के तीन पुत्र व चार पुत्री हैं।