यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ के दीदारगंज में अब जहरीली शराब से सात की मौत, तीन पुलिसकर्मी निलंबित


🗒 गुरुवार, मई 13 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ के दीदारगंज में अब जहरीली शराब से सात की मौत, तीन पुलिसकर्मी निलंबित

आजमगढ़, । अब दीदारगंज से उठी जहरीली शराब से मौत की चीख। अरनौला व इमादपुर गांव में सात लोग मर गए, जबकि एक की हालात गंभीर बताई गई है। शराब पीने के बाद पेट में दर्द, उल्टी, घबराहट के बीच सभी की जान चली गई। हैरान, परेशान स्वजनों को जहरीली शराब से मौतों का लक्षण पता चला तो भागकर थाने पहुंचे। हालांकि, सभी के शव का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। पुलिस अरनौला गांव में पहुंची तो दो आदिवासियों के शव को उठाकर थाने लाई। ग्रामीणों ने उनकी मौत भी जहरीली शराब पीने से होने की आशंका जताई है।पुलिस दो लोगों पकड़कर पूछताछ कर रही है।दीदारगंज थाना क्षेत्र के इमादपुर व अरनौला गांव में 24 घंटे में पांच लोगों की मौत से गांव में कोहराम मच गया। ग्रामीणों ने दुखी मन से अपनों का अंतिम संस्कार कर दिया। उन्हें समझ में नहीं आ रहा था कि शराब पीने के बाद घबराहट, पेट दर्द, उल्टी पहले तो कभी नहीं होती थी। ऐसे में अबकी क्या हुआ, जो एक साथ इतने लोगों की मौत हो गई।जिले के ही पवई इलाके में जहरीली शराब से मरे लोगों के लक्षण के बारे में ग्रामीणों को जानकारी हुई तो भागकर थाने पहुंचे। पुलिस को असलियत बताई तो कार्रवाई की बजाए पुलिस सुबूत मिटाने में जुट गई। मृतकों में इमादपुर गांव के संजय पुत्र सोमारू राजभर, जोगेंद्र पुत्र रामदवर राजभर, केशव उर्फ गब्बर पुत्र सुरेंद्र राजभर हैं। जबकि इसी गांव के खजांची पुत्र चंद्रिका राजभर को इलाज के लिए शाहगंज ले जाया गया है। इमादपुर के लाेगों ने बताया कि बुधवार को उनके गांव में तीनों मौतें हुईं हैं। गांव में अंडे की दुकान पर दारू बिकती है, जहां से खरीदकर पी थी। पेट में दर्द, उल्टी, घबराहट, बेचैनी कुछ देर बाद दम निकल गए। उधर अरनौला गांव के लोचन पुत्र खदेरू, फेकू पुत्र रिबई राजभर की मौत हुई है। इस गांव में पुलिस पहुंची तो दो आदिवासियों के शव पड़े मिले, जिसे थाने ले गई।उप जिलाधिकारी मार्टीनगंज दिनेश मिश्रा ने बताया कि दो पहले सरायमीर से लगभग 15 की संख्या में घुमंतू लोग अरनौला गांव में डेरा डाले थे। बुधवार की देर रात अज्ञात कारणों से डेरे में शामिल दंपती की मौत के बाद शेष फरार हो गए। मरने वालों में 42 वर्षाय जगदंबा और उसकी पत्नी 40 वर्षीय शर्मिला हैं। प्रथम दृष्टया मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं होने से शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। रिपोर्ट के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा। एसडीएम ने दीदारगंज थाना क्षेत्र के इमादपुर में कुछ लाेगाें की मौत के संबंध में बताया कि इमादपुर गांव में दो लोगों की मौत हुई थी, उसकी सूचना किसी ने नहीं दी थी। अभी अरनौला आया हूं, इसके बारे में कुछ देर बाद बता पाऊंगा।विलंब से ही, लेकिन आजमगढ़ पुलिस प्रशासन की भी तंद्रा टूटी है। पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने पवई थानाध्यक्ष अयोध्या तिवारी, मित्तूपुर चौकी प्रभारी अरुण कुमार सिंह व बीट के हेड कांस्टेबल राजकिशोर को निलंबित कर दिया है। एसपी ने अंबेडकर नगर जिले में हुई जहरीली शराब से मौत की घटना के बाद समय से कार्रवाई न करने व निष्क्रियता बरतने पर यह कार्रवाई की है। जहरीली शराब मामले में पुलिस प्रशासन से पूर्व आबकारी विभाग ने अपने इंस्पेक्टर एवं दीवान के खिलाफ कार्रवाई की है। हालांकि, पहले दिन की तरह प्रशासन अभी मानने को तैयार नहीं कि मौतें जहरीली शराब पीने के कारण हुईं हैं।