यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ के 20 मदरसा संचालकों के खिलाफ एफआइआर


🗒 शनिवार, मई 22 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ के 20 मदरसा संचालकों के खिलाफ एफआइआर

आजमगढ़, । मदरसों में फर्जी नियुक्तियों के मामले में विशेष जांच दल (एसआइटी) ने अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय के अधिकारियों पर कार्रवाई शुरू कर दी है। आजमगढ़ के मुबारकपुर मदरसा जामिया नुरुल उलूम के अध्यक्ष जहीर अहमद, प्रबंधक अहमदुल्लाह को भी नामजद आरोपी बनाया है। जिले में 20 मदरसों में शिक्षकों की फर्जी तैनाती दिखाकर सरकारी अनुदान के धन के गबन का मामला सामने आया है।जांच के बाद एसआइटी ने अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय के अधिकारियों की जांच शुरू की। मामले में आजमगढ़ के मदरसा जामिया नुरुल उलूम के अध्यक्ष जहीर अहमद, प्रबंधक अहमदुल्लाह के खिलाफ आइपीसी की धारा 409, 420 और 120 बी में एफआइआर दर्ज कराई है।मुबारकपुर के मदरसा जामिया नुरुल उलूम, मदरसा अशरफिया सिराजुल उलूम नेवादा अमिलो, अरबिया दारूतालीम सोफीपुरा, बाबुल ईल्म निस्वां, जफरपुर का मदरसा अरबिया जियाउल उलूम मंदे, बम्हौर का मदरसा मदरसतुल आलिया शेख रज्जब अली, जामिया अरबिया तनवीर उल उलूम नौशहरा, अरबिया कासिमुल मगरांवा, इस्लामिया जमीअतुल कुरेश जालंधरी में शिक्षकों की फर्जी तैनाती कर सरकारी धन के गबन की पुष्टि हुई है। इस मामले में इन मदरसों के प्रबंधक अख्तर अब्बास, फैजान अहमद, मोहम्मद आरिफ, गुलाम मोहम्मद, गयासुद्दीन, हाफिजुर रहमान, सहायक अध्यापक गयासुर रहमान, अब्दुल अलीम, अब्बास अली, बरकत अहमद ,दानिश, यासमीन अख्तर, अरमान अहमद खान, मोहम्मद मेहंदी, साजिदा बानो, लिपिक शादाब अहमद, फहीम एजाज, मोहम्मद अरशद, मोहम्मद शाहनवाज और चपरासी मुश्ताक अहमद के खिलाफ लखनऊ में नामजद एफआइआर की गई है। इस मामले में अल्पसंख्यक कल्याण निदेशालय के अन्य अधिकारियों और कर्मचारियों की भूमिका की भी जांच जारी है। जांच अधिकारी एसआइटी के तत्कालीन इंस्पेक्टर परशुराम सिंह के सहयोग में लगे जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकष सिंह ने बताया कि कार्रवाई की जानकारी मिली है। मदरसों से संबंधित अभी एक और प्रकरण में एसआइटी को जांच सौंपी गई है, जिसके संबंध में जल्द ही कार्रवाई शुरू हो सकती है।