वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई के दौरान बाहुबली मुख्तार अंसारी ने गिनाईं कई मुश्किलें

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई के दौरान बाहुबली मुख्तार अंसारी ने गिनाईं कई मुश्किलें


🗒 मंगलवार, मई 25 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
वीडियो कांफ्रेंसिंग से सुनवाई के दौरान बाहुबली मुख्तार अंसारी ने गिनाईं कई मुश्किलें

आजमगढ़,। पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की रिमांड पेशी मंगलवार को गैंगस्टर कोर्ट में हुई। विद्वान न्यायाधीशों के सामने स्क्रीन पर दो मिनट दिखे डान ने भोजन, टीवी, स्वजनों से न मिल पाने सहित आधा दर्जन शिकायतें गिना डालीं। उसकी सुन रहे न्यायाधीशों ने कहाकि आनलाइन लिखित शिकायत करें उस पर विचार किया जाएगा। वह कुछ और कहता लिंक फिर से फेल हुआ तो विद्वान न्यायाधीशों ने अगली सुनवाई की तिथि 25 जून मुकर्रर कर दिया। गैंगस्टर मामले में मुख्तार समेत विभिन्न जेलों में निरुद्ध उसके गिरोह के पांच अन्य सदस्यों की भी रिमांड पर पेशी हुई।गैंगस्टर कोर्ट के जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनिल वर्मा व रवीश कुमार अत्री ने डॉन की रिमांड पेशी के लिए एक दिन पूर्व ही समय मुकर्रर कर दिया था। दरअसल, 24 अप्रैल को लिंक फेल होने के कारण कोर्ट की कार्यवाही पूरी न हो पाने से विद्वान न्यायाधीशों ने नाराजगी जताई थी। इसका असर रहा कि दिन में 11.45 बजे लिंक जुड़ते ही रिमांड पेशी हुई। दो मिनट तक चली कार्रवाई के बाद फिर 11.47 बजे लिंक फेल हो गया। दो मिनट का मौका मिला तो मुख्तार ने कहाकि घर वालों, मेरे वकील से मिलने नहीं दिया जा रहा है। टीवी की व्यवस्था नहीं की गई है। जेल में बेहतर क्वालिटि का भोजन नहीं मिल पा रहा है। विद्वान जज सुनवाई कर रहे थे कि लिंक फेल होने के कारण रिमांड पेशी की नई तारीख 25 जून निर्धारित कर दी गई। मुख्तार के बाद उसके गैंग के राजन पासी गाजीपुर, श्यामबाबू पासी बुलंद शहर, अभिषेक मिश्रा, उमेश सिंह व राजेंद्र पासी की आजमगढ़ जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये रिमांड पर पेशी हुई। मुख्तार के अधिवक्ता दारोगा सिंह, लल्लन सिंह व सीएल निगम पहले से ही कोर्ट में पहुंच गए थे। दारोगा सिंह व लल्लन सिंह ने कहाकि आनलाइन प्रार्थनापत्र मुख्तार की तरफ से दिया जाएगा।  विशेष लोक अभियोजक संजय द्विवेदी व विनय मिश्र उपस्थित रहे। कोर्ट में केस के विवेचक प्रशांत श्रीवास्तव मौजूद रहे।