यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आजमगढ़ में प्‍यार पाने के लिए बन गया खून का प्‍यासा


🗒 सोमवार, जुलाई 12 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आजमगढ़ में प्‍यार पाने के लिए बन गया खून का प्‍यासा

आजमगढ़। आजमगढ़ जिले के बिलरियागंज थाना क्षेत्र में सोमवार को। मधनापार स्थित सड़क पुलिया से सटे बाग में रविवार को आईटीआई के छात्र मनीष मिश्रा की प्रेम प्रसंग में हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही इस मामले को उजागर करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जबकि दूसरे आरोपी की तलाश जारी है।बिलरियागंज थाना क्षेत्र के मधनापार स्थित पुलिया से सटे बाग में रविवार को मनीष मिश्रा उम्र 21वर्ष पुत्र राकेश मिश्रा निवासी गड़ेरूवा (माटी का पूरा) थाना जीयनपुर की लाश मिली थी। युवक की लाश मिलने से हड़कंप मच गया सूचना पर पहुंचे मृतक के भाई पीयूष मिश्रा ने बिलरियागंज थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। आइटीआइ के छात्र की दिनदहाड़े हत्या से पुलिस काफी सकते में आ गई। परेशान थानाध्यक्ष बिलरियागंज धर्मेंद्र सिंह ने अपने खुफिया तंत्र को सक्रिय किया और 24 घंटे के अंदर ही इस मामले का खुलासा कर दिया।थानाध्यक्ष बिलरियागंज ने बताया कि सोमवार को संदिग्ध व्यक्तियों की तलाश में बिलरियागंज में चेकिंग की जा रही थी इस बीच मुखबिर से सूचना मिली कि मनीष मिश्रा पुत्र राकेश मिश्रा की हत्या में आरोपित रूपेश उपाध्याय पुत्र स्वर्गीय दिवाकर उपाध्याय निवासी सेहदा थाना कंधरापुर सियरहा पुलिया के पास मौजूद है जो कही भागने की फिराक में है। सूचना मिलते ही हम लोग मौके पर पहुंच गए और घेर कर उसको 11:05 बजे गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए रुपेश के पास से एक आदत कट्टा और 315 बोर का जिंदा कारतूस बरामद हुआ।थानाध्यक्ष द्वारा कड़ाई से पूछने पर पकड़े गए युवक ने बताया कि जीयनपुर थाना क्षेत्र के एक लड़की से मेरा प्रेम प्रसंग है जिससे मनीष मिश्र भी प्रेम करता था। कई बार मनीष को समझाया लेकिन वह नहीं माना हम दोनों एक दूसरे से शादी करना चाहते थे इसलिए मनीष मिश्रा को रास्ते की से हटाने के लिए मैंने भांजे सागर तिवारी पुत्र स्वर्गीय बृजेश तिवारी निवासी धनकपुर थाना सिधारी जनपद आजमगढ़ से मिलकर मधनापार बिलरियागंज में रविवार को दिन में 1:30 बजे के करीब चाकू और बांस से वार कर मनीष की हत्या कर दिए। थानाध्यक्ष बिलरियागंज ने बताया कि आरोपित की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू और बाईक भी बरामद कर ली गई है।