अवैध संबंध के शक में कर दी पत्‍नी की गला दबाकर हत्‍या, गिरफ्तार

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अवैध संबंध के शक में कर दी पत्‍नी की गला दबाकर हत्‍या, गिरफ्तार


🗒 बुधवार, जून 01 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
अवैध संबंध के शक में कर दी पत्‍नी की गला दबाकर हत्‍या, गिरफ्तार

बदायूं, । अवैध संबंधों के शक में पति ने अपनी पत्नी को गला दबाकर मार डाला। पत्नी का गला दबा रहे पति को उसके बच्चों ने ही देखा जिन्होंने सूचना गांव में रह रहे अपने रिश्तेदारों को दी। लेकिन रिश्तेदार पहुंचे तब तक महिला की मौत हो चुकी थी और आरोपित वहां से भाग चुका था। हत्या की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं महिला के चाचा की तहरीर पर पति के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपित को गांव के बाहर से गिरफ्तार भी कर लिया है।थाना मुजरिया क्षेत्र के गांव तिगोड़ा निवासी नत्थो देवी पुत्री कृपाल की शादी लगभग 15 वर्ष पहले सिविल लाइन थाना क्षेत्र के गांव बहेड़ी निवासी वीरपाल सिंह के साथ हुई थी। नत्थो देवी के माता-पिता बचपन में गुजर गए थे। उसे उसके चाचा और बुआ ने पाल पोसकर बड़ा किया था। नत्थो देवी के माता पिता के गुजर जाने के बाद उनके हिस्से की करीब 14 बीघा जमीन उसके नाम आ गई थी। इसके चलते ही वह चाहती थी कि यहीं रहा जाए। उसके कहने पर पति वीरपाल ने अपने गांव बहेड़ी की चार बीघा जमीन बेच दी थी और वह नत्थों के गांव तिगोड़ा में ही घर बनाकर रहने लगा था। वह उसी 14 बीघा जमीन पर खेतीबाड़ी कर परिवार चला रहा था। इसी बीच वीरपाल काे शक हुआ कि उसकी पत्नी नत्थो के गांव के ही एक युवक के साथ अवैध संबंध हैं। इस पर वह कई दिनों से तिगोड़ा छोड़कर बहेड़ी चलने की बात कह रहा था।मंगलवार रात इसी बात को लेकर पति पत्नी में झगड़ा भी हुआ था। इस पर नत्थो थाने जाकर शिकायत कर आई थी। रात में पुलिस पहुंची तो वीरपाल घर पर नहीं था। पुलिस पूछताछ कर चली गई। रात में वीरपाल आया और अपने चारों बच्चों को लेकर छत पर चला गया। सुबह के समय वह नीचे आया और उसने नत्थो की गला दबाकर हत्या कर दी। इस पूरे घटनाक्रम को उसके बच्चों ने देख लिया। जब वीरपाल वहां से भाग गया तो बच्चों ने ही सूचना गांव में ही रहने वाले चाचा शिशुपाल को दी। सूचना पर पहुंचे चाचा ने जब नत्थो को देखा तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। सूचना पर थानाध्यक्ष मुजरिया प्रदीप कुमार विश्नोई पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। कुछ देर बाद एसपी देहात सिद्धार्थ वर्मा मौके पर पहुंचे और आरोपित की गिरफ्तारी के निर्देश दिए। पुलिस ने दोपहर में ही आरोपित वीरपाल सिंह को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित ने कुबूल किया कि उसने अवैध संबंधों के शक में गला दबाकर पत्नी की हत्या की है।पति वीरपाल ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि उसकी पत्नी नत्थो उससे जो कहती थी वह करता था। उसके कहने पर ही वह अपनी जमीन बेचकर उसके गांव रहने लगा था। लेकिन वह उसका कहा नहीं मानती थी। वीरपाल ने आरोप लगाया कि वह दो बार गांव के अलग अलग दो युवकों के साथ जा चुकी थी। लेकिन बाद में वापस आ गई थी। उसने बताया कि उसे शक था कि कहीं वह उसकी हत्या न करा दे। इसके चलते ही रात में विवाद हुआ और सुबह उसने पत्नी की हत्या कर दी।एसपी देहात सिद्धार्थ वर्मा ने बताया कि मुजरिया थाना क्षेत्र के गांव तिगोड़ा निवासी महिला की हत्या उसके पति ने ही की थी। उसे आशंका थी कि पत्नी के किसी से अवैध संबंध है। इसके चलते ही उसने हत्या की। मुकदमा दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है।