यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

चेयरमैन का भतीजा और भांजा गिरफ्तार


🗒 शनिवार, मई 28 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
चेयरमैन का भतीजा और भांजा गिरफ्तार

बागपत, । घर में घुसकर छात्रा को अगवा करने का प्रयास और पीड़िता समेत स्वजन को जिंदा जलाने की कोशिश का आरोप पुलिस जांच में झूठा निकला। एसपी के अनुसार विवाद रास्ते में भैंसा बंधा होने को लेकर हुआ था। पुलिस ने पीड़ित पक्ष के आरोप पर शुक्रवार रात नगर पालिका चेयरमैन के भतीजे व भांजे को गिरफ्तार किया था। दोनों को शनिवार को कोर्ट से जमानत मिल गई।बागपत नगर निवासी एक महिला ने कोतवाली में शुक्रवार देर रात एक मुकदमा दर्ज कराया था, जिसमें पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उनकी 15 वर्षीय बेटी नौवीं की छात्रा है, उसके साथ बदसलूकी की गई। महिला के अनुसार शुक्रवार रात आठ बजे नगर पालिका चेयरमैन राजुद्दीन एडवोकेट के भतीजे मोनू और भांजे सोनू ने घर में घुसकर बेटी को कार से अगवा करने का प्रयास किया था। विरोध करने पर आरोपितों ने उन पर व भैंसे पर पेट्रोल डालकर जलाने का भी प्रयास किया था। शोर शराबा होने पर लोगों ने दोनों आरोपित पकड़कर पुलिस को सौंप दिए थे। पीड़िता के मुताबिक ज्यादा पेट्रोल डालने की वजह से बेटी बेहोश हो गई थी और आरोपितों ने कहा था कि वह एक प्रतिष्ठित परिवार से हैं, पुलिस से शिकायत की तो जान से मार देंगे। सीओ बागपत, अनुज कुमार मिश्रा ने बताया कि इस मामले में चेयरमैन एडवोकेट राजुद्दीन के भतीजे मोनू निवासी बागपत और भांजे सोनू निवासी करनाल (हरियाणा) को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया, जहां से दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया गया।जिला बार एसोसिएशन के महामंत्री महेंद्र बंसल के नेतृत्व में अधिवक्ता शनिवार को कोतवाली में सीओ अनुज कुमार मिश्र से मिले। उन्होंने कहा कि आगामी निकाय चुनाव देखते हुए चेयरमैन राजुद्दीन एडवोकेट की छवि खराब करने के लिए उनके भतीजे अधिवक्ता मोनू और भांजे सोनू के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है। केस की निष्पक्ष जांच की जाए। सीओ से मिलने वालों में पूर्व महामंत्री रामपाल शर्मा, आजाद धामा, मोहम्मद फिरोज खान, इरफान, सर्फराज, संजय पंवार, इरफान आदि शामिल रहे।छात्रा की माता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच में सामने आया कि रास्ते में भैंसा बंधा होने के कारण मोनू व सोनू को कार निकालने में परेशानी हुई थी। इसको लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। दोनों पक्षों में पहले से भी मनमुटाव चल रहा है। छात्रा को न तो अगवा किया गया और न ही किसी को जलाने का प्रयास किया गया। आरोपितों पर नियमानुसार कार्रवाई की गई। भाई के बेटे ने कार निकालने के लिए रास्ते से भैंसा हटाने के लिए छात्रा के पिता को बोला था। इसी को लेकर मामूली कहासुनी हुई थी। कुछ लोगों ने आगामी निकाय चुनाव को लेकर माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया और भतीजे मोनू और भांजे सोनू के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया। सोनू तो वहां पर मौजूद भी नहीं थे। माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के मंसूबे पूरे नहीं होंगे। शहर की फिजां नहीं बिगड़ने दी जाएगी।  राजुद्दीन एडवोकेट, चेयरमैन, नगर पालिका परिषद, बागपत

बागपत से अन्य समाचार व लेख

» पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर पति के गुप्तांगों को लोहे से कुचला

» दस लाख नहीं मिले तो अविवाहित ताऊ को सौंप दी पत्नी, दुष्‍कर्म

» बदमाशों ने हाईवे पर स्कूटी सवार को गिराया, पुलिस से हो गई मुठभेड़

» पूर्व सैनिक को पीटकर मार डाला, जंगल में मिला शव

» 61 किलोग्राम डोडा पोस्त व कई सौ शराब की बोतलें बरामद

 

नवीन समाचार व लेख

» मोटरसाईकिल सवार युवक की मार्ग दुर्घटना मे मौत

» लौह पुरूष सरदार पटेल की जयन्ती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनायी गयी

» उत्तरप्रदेश जलनिगम लाल झंडा जनपद इकाई मजदूरसंघ कानपुर नगर की बैठक संपन्न हुई l

» भ्रष्टाचार मुक्त का दावा करने वाली प्रदेश सरकार के अधिकारी पूरी तरह सरकार को बदनाम करने मे कोई कसर नहीं छोड़ रहे l

» महोबा - सी एस सी के माध्यम से विशेष अभियान आयुष्मान भारत जन आरोग्य पखवाड़ा 17 अक्टूबर से 22 अक्टूबर तक