यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बैंक मित्र ने किसान को थमा दी फर्जी रसीद, ठगी


🗒 बुधवार, अगस्त 10 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बैंक मित्र ने किसान को थमा दी फर्जी रसीद, ठगी

बागपत, । किसान के साथ बैंक मित्र ने किसान क्रेडिट कार्ड में पैसा जमा करने के नाम पर सवा लाख की ठगी कर ली। पीड़ित का कहना है कि बैंक में शिकायत करने के बाद भी आरोपित के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है। आरोपित ने उसे जान से मामने की धमकी भी दी है। थाना सिंघावली अहीर पर तहरीर देकर गांव रोशनगढ़ निवासी मौसम अली पुत्र समयदीन ने बताया की 8 वर्ष पूर्व उन्होंने पिलाना के केनरा बैंक से अपनी खेत की भूमि पर 242000 रुपए का लोन लिया था। पिछले वर्ष बैंक का बकाया 356000 रुपए था। बैंक में कार्यरत बैंक मित्र (बीसी) अपने साथी के साथ उनके घर आया। उसने क्रेडिट कार्ड लोन में सरकार द्वारा छूट होना बताया। लोन जमा करने के नाम पर उनसे 239000 रुपए ले लिया। उन्हें छह माह तक गुमराह करने के बाद रसीद और नोडयूज दिया। जिसमे रकम जमा करने की 239000 हजार की फर्जी रसीद भी थी। अब उन्होंने बैंक जाकर लोन क्रेडिट कार्ड अकाउंट की स्टेटमेंट निकलवा कर जानकारी ली तो पता चला कि उनके लोन खाता में केवल 117500 ही जमा हुए हैं। इस प्रकार 122000 रुपए बैंक मित्र ने ठग लिए। इस बीच बैंक मित्र ने जांच करने के नाम पर उनके द्वारा दी गई फर्जी जमा रसीद भी उनसे वापस ले ली। इस मामले की शिकायत उन्होंने बैंक मैनेजर से की परंतु पिछले छह माह बैंक चक्कर काटने के बाद भी किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई। उन्होंने बैंक मित्र और उसके साथी से जाकर गबन किया गया पैसा वापस मांगा तो उन्होंने उसके, उसकी पत्नी व बेटी के साथ अभद्र व्यवहार किया और जान से करने की धमकी दी। इस मामले में कैनरा बैंक शाखा पिलाना के मैनेजर आकाश कुमार ने बताया कि उनकी अभी कुछ दिनों पहले यहां पोस्टिंग हुई है। मामले में जांच कर आवश्‍यक विभागीय कार्रवाई की जाएगी।