यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दस लाख नहीं मिले तो अविवाहित ताऊ को सौंप दी पत्नी, दुष्‍कर्म


🗒 रविवार, सितंबर 04 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
दस लाख नहीं मिले तो अविवाहित ताऊ को सौंप दी पत्नी, दुष्‍कर्म

बागपत, । दहेज में दस लाख रुपये नहीं मिलने और जमीन पाने के लालच में व्यक्ति ने अपनी पत्नी को अविवाहित ताऊ को सौंप दिया। उसने दुष्कर्म किया। इसकी शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी। खेकड़ा कोतवाली में गाजियाबाद जिले की महिला ने कोतवाली पर तहरीर दी। बताया कि वर्ष 2020 में उसकी शादी पिता ने 11 लाख रुपये नकद, स्विफ्ट कार व अन्य सामान देकर की थी। शादी के कुछ दिन बाद ही ससुरालीजन दहेज को कम बताकर दस लाख रुपये नकद देने की मांग करने लगे। कई बार मारपीट की। आरोप था कि तहेरा ससुर अविवाहित है जिसकी जमीन पर ससुरालीजन की नियत है। दहेज की मांग पूरी न होने पर जुलाई माह में पति ने तहेरे ससुर को सौंप दिया। आरोपित ने उससे दुष्कर्म किया, पिता की लाज के खातिर किसी से जिक्र नहीं किया। दोबारा फिर तहेरे ससुर के पास भेजना चाहा तो वह मायके चली गई। गत 25 अगस्त को पति किसी तरह मानमन्नोवल कर मायके से ससुराल लेकर आया। चार पांच दिन ठीक से रहने के बाद फिर से ससुरालीजन ने रकम लाने का दबाव बनाया। इंकार करने पर तहेरे ससुर के कमरे में धकेल दिया। आरोपित ने दुष्कर्म किया। आरोपितों ने दस लाख रुपये देने या ताऊ के साथ संबंध में ही रहने की धमकी दी। तहरीर पर पुलिस ने दुष्‍कर्म और दहेज प्रतिषेध अधिनियम आदि  धाराओं के तहत आठ आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया। इंस्पेक्टर डीके त्यागी का कहना है कि जांच कर कार्रवाई की जाएगी।