यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बागपत में अपह्रत व्यापारी बरामद, फोन पर मांगी थी एक करोड़ की फिरौती


🗒 सोमवार, अक्टूबर 26 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बागपत में अपह्रत व्यापारी बरामद, फोन पर मांगी थी एक करोड़ की फिरौती

बागपत, बड़ौत में सोमवार को अल सुबह दुकान जा रहे लोहा व्यापारी का अपहरण कर एक करोड़ की फिरौती मांगी गई। इस घटना से पूरे जिले में हड़कंप मच गया। एडीजी, आइजी, एसपी समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और व्यापारी की तलाश शुरू की। करीब नौ घंटे बाद व्यापारी को रटौल गांव के पास सकुशल बरामद कर लिया गया। पुलिस का दावा है कि घेराबंदी के कारण बदमाश लोहा व्यापारी को छोड़कर भाग निकले। बदमाशों की तलाश की जा रही है।बड़ौत शहर के मोहल्ला खत्री गढ़ी निवासी 55 वर्षीय आदिश कुमार जैन लोहा व्यापारी हैं। उनकी भगवान महावीर मार्ग पर दुकान है। सोमवार सुबह करीब पांच बजे वह सामान उतरवाने के लिए घर से पैदल ही दुकान के लिए निकले। सुबह छह बजे छोटे पुत्र अर्पित जैन उर्फ रिंकू के मोबाइल पर आदेश जैन के मोबाइल नंबर से काल आई। काल करने वाले ने आदेश जैन का अपहरण करने की बात बताते हुए एक करोड़ रुपये की फिरौती मांगी। फिरौती नहीं देने पर हत्या की धमकी दी। स्वजन ने तत्काल पुलिस को सूचना दी। एसपी अभिषेक सिंह मौके पर पहुंचे और स्वजन से जानकारी लेने के बाद पूरे जिले की सीमा सील करते हुए आसपास के जिलों व हरियाणा के सोनीपत को भी अलर्ट कर दिया। दोपहर करीब तीन बजे पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में एडीजी राजीव सभरवाल, आइजी प्रवीण कुमार व एसपी अभिषेक ने बताया कि अपहृत लोहा व्यापारी को नौ घंटे के भीतर सकुशल बरामद कर लिया गया। एडीजी ने बताया कि सुबह पांच बजे लोहा व्यापारी का कार सवार तीन बदमाशों ने अपहरण किया था। पुलिस की घेराबंदी के चलते बदमाश दोपहर दो बजे लोहा व्यापारी को रटौल गांव के निकट स्थित पूर्वी यमुना नहर पटरी पर छोड़कर फरार हो गए। एडीजी ने स्पष्ट किया कि बदमाशों को फिरौती नहीं दी गई है। आदिश के बेटे अर्पित की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ अपहरण व फिरौती मांगने का मुकदमा दर्ज किया गया है। बदमाशों की तलाश में एसटीएफ मेरठ व जिले की पुलिस को लगाया गया है। आदिश की सकुशल बरामदगी पर पुलिस व स्वजन ने राहत की सांस ली।लोहा व्यापारी आदिश जैन ने बताया कि बदमाशों ने एक स्कूल के पास से वैबनआर कार में उनका अपरहण किया। आंखों पर पट्टी बांधकर कार में घुमाते रहे। उन्हीं के फोन से फिरौती के लिए फोन किया। बाद में बदमाशों ने यह भी कहा कि उन्हें किसी और का अपहरण करना था। गलती से तुम्हारा कर लिया। बदमाशों ने रास्ते में आदिश को दो बार पानी पिलाया।