हिस्ट्रीशीटर हत्यारोपित पुलिस मुठभेड़ में घायल, बीस से ज्‍यादा मुकदमें दर्ज

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

हिस्ट्रीशीटर हत्यारोपित पुलिस मुठभेड़ में घायल, बीस से ज्‍यादा मुकदमें दर्ज


🗒 सोमवार, जून 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
हिस्ट्रीशीटर हत्यारोपित पुलिस मुठभेड़ में घायल, बीस से ज्‍यादा मुकदमें दर्ज

बागपत, । जिवाना गांव के रणवीर हत्याकांड में फरार चल रहा हिस्ट्रीशीटर पुलिस मुठभेड़ में घायल हो गया। 25 हजार के इनामी हिस्ट्रीशीटर पर विभिन्न थानों में 20 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। आरोपित घायल बदमाश को अस्पताल में भर्ती कराया है। इंस्पेक्टर रवेंद्र यादव ने बताया कि जिवाना गांव में 10 जून को खेत में किसान रणवीर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटना के बाद आरोपित राजकुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, जबकि राजकुमार के बेटे के अलावा और गांव का ही हिस्ट्रीशीटर बदमाश मयंक हत्याकांड में फरार चल रहा था।सोमवार को सूजती पुल पर असारा के जंगल में हिस्ट्रीशीटर का सामना पुलिस से हो गया। पुलिस ने आरोपित को पकड़ने का प्रयास किया, तो वह पुलिस पर फायरिंग कर भागा। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए गोली चलाई। पुलिस की गोली पैर में लगने से मयंक घायल हो गया। घायल बदमाश को बड़ौत सीएचसी पर भर्ती कराया गया है। घटना के बाद सीओ आलोक सिंह मौके पर पहुंचे और पुलिस से घटना की जानकारी ली। सीओ आलोक सिंह ने बताया कि मयंक रमाला थाने का हिस्ट्रीशीटर है और उसके खिलाफ विभिन्न थानों में हत्या, डकैती, लूट आदि के 20 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस ने आरोपित के पास से तमंचा और बाइक बरामद की है।पुलिस के अनुसार रणवीर ने ठेके पर खेत ले रखे थे। राजकुमार का खेत भी रणवीर के पास ही था। दोनों में मेढ़ की घास को लेकर विवाद होता था। राजकुमार मेढ़ की घास रणवीर के खेत में फेंक देता था। इसी को लेकर राजकुमार और उसके बेटे विशु पर रणवीर की हत्या का आरोप लगा था। बाद में रणवीर के स्वजन ने हिस्ट्रीशीटर मयंक पर भी हत्या में शामिल होने का आरोप लगाया था।