यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्जी नानी गर्भवती किशोरी को लेने पहुंच गई सीडब्ल्यूसी


🗒 मंगलवार, अक्टूबर 12 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्जी नानी गर्भवती किशोरी को लेने पहुंच गई सीडब्ल्यूसी

बागपत, । प्रेम विवाह के बाद एक किशोरी गर्भवती हो गई थी। उसकी मां ने किशोरी को अपने साथ रखने से इन्कार कर दिया था। इस पर सीडब्ल्यूसी में किशोरी को लेने दो महिलाएं पहुंच गई। उनमें से एक ने अपने आपको उसकी नानी बताया।खेकड़ा थाना क्षेत्र की एक किशोरी गत 26 जून को रहस्यमय ढंग से लापता हो गई थी। उसकी माता ने 29 जून को एक युवक पर बहला-फुसलाकर बेटी को ले जाने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने आठ अक्टूबर को किशोरी को बरामद कर मेडिकल कराया तथा धारा 161 आईपीसी के तहत बयान दर्ज किए। किशोरी को मंगलवार को सीडब्ल्यूसी (चाइल्ड वेलफेयर सोसायटी) के सम्मुख पेश किया गया। सीडब्ल्यूसी के अध्यक्ष स्वर्ण सिंंह व चार सदस्यों ने किशोरी से जानकारी प्राप्त की। महिला सदस्य सरिता चौधरी के मुताबिक मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक किशोरी की उम्र 17 साल चार माह है। किशोरी ने बताया कि उसने अपनी मर्जी से युवक के साथ प्रेम विवाह किया है। मेडिकल रिपोर्ट में किशोरी दो माह की गर्भवती है। ऐसी स्थिति में किशोरी को युवक के साथ नहीं भेजा जा सकता है। किशोरी को अपने साथ रहने से उसकी मां पहले ही मना कर चुकी है। दो महिलाएं किशोरी को लेने के लिए पहुंची। महिलाओं ने अपने आपको रिश्ते में बहनें तथा एक महिला ने खुद को किशोरी की नानी बताया। किशोरी को अपनी धेवती बताया। वहीं किशोरी ने भी उक्त महिला को अपनी नानी बताया। कोई शक न करें, इसलिए उन्होंने खूब हमदर्दी दिखाई। सरिता चौधरी ने बताया कि गहनता से जांच की गई तो पता चला कि महिला, किशोरी की नानी नहीं है। वह फर्जी तरीके से किशोरी को लेने आई थी। दोनों महिलाओं को आवश्यक कार्रवाई के लिए पुलिस अपने साथ लेकर गई है।