यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बलिया के सुरहा ताल में गहरे पानी में अचानक नाव पलटी, छह डूबे बच्‍चों में दो की मौत


🗒 रविवार, फरवरी 21 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बलिया के सुरहा ताल में गहरे पानी में अचानक नाव पलटी, छह डूबे बच्‍चों में दो की मौत

बलिया, बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के मैरिटार गांव के छह बच्चे सुरहाताल में डूब गये। इसमें दो की मौत हो गई है। चार बच्चों को बचा लिया गया है, उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया है। वे ताल के अंदर टीले पर पिकनिक मनाने के लिए गये हुए थे। रविवार को दोपहर गहरे पानी में अचानक नाव पलट गई और सभी बच्चे ताल के गहरे पानी में गिर गए। वहीं नाव हादसे के बाद मैटिहार गांव में हादसे की जानकारी होने के बाद पीड़ितों के घर भारी भीड़ उमड़ पड़ी। हादसे में दीपक कुमार गुप्त (21) व अमित कुमार गुप्त (25) की मौत हो गई। मल्लाहों ने तत्परता दिखाते हुए डूब रहे अभिषेक कुमार (24), अंकित कुमार गुप्त (23), रमेश कुमार (24) व भोलू (22) को सुरक्षित निकाल लिया। रविवार की दोपहर करीब एक बजे कई बच्‍चे बलिया जिले के सुरहा ताल स्थित टीले पर पिकनिक मनाने के लिए नाव से जा रहे थे। अचानक गहरे पानी में नाव अनियंत्रित होकर डगमगाने लगी। नाव अनियंत्रित होने के बाद यह देखते ही देखते पलट गई। नाव गहरे पानी में पलटने की जानकारी होने के बाद आनन फानन बच्‍चों को बचाने की कोशिश शुरू हुई। हादसे के दौरान छह में चार बच्‍चों को किसी तरह से लोगों के सहयोग से बचाने में सफलता तो मिली लेकिन गहरे पानी में डूबने से दो बच्‍चों की मौत हो गई। बच्‍चों के सुरहा ताल में डूबने की जानकारी होने के बाद तट पर लोगों की भारी भीड़ लग गई। आनन फानन हादसे की जानकारी से पुलिस को भी अवगत कराया गया तो मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। वहीं हादसे की जानकारी से प्रशासन को भी अवगत करा दिया गया है। हालांकि, उससे पहले ही लोगों के प्रयास से डूबे बच्‍चों को बचा लिया गया। इसके बाद सुरहा ताल में डूबे बच्‍चों का शव विधिक कार्रवाई के लिए पुलिस ने कब्‍जे में लेकर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं परिजनों को हादसे की जानकारी हुई तो रो - रोकर बुरा हाल हो गया। जबकि परिजनों के घर हादसे के बाद लोगों की भारी भीड़ लग गई। घटनास्थल पर भगवान का दूत बनकर पहुंचे सुमन्त निषाद ने तीन युवकों की जान बचाकर मानवता की मिसाल पेश की है। नाव पलटने के बाद तत्काल बाद नाव से ताल के अंदर जा रहे सुमन्त निषाद ने बताया कि चिल्लाने की आवाज सुन मैं काफी तेज गति से डूब रहे लोगो के तरफ नाव लेकर गया। साथ ही आस पास के लोगोंं को भी आवाज लगा बुलाया तब तक मैं तीन युवकों को पानी के अंदर से निकाल लिया था। शेष तीन को पीछे से आये विकेक निषाद, शैलेन्द्र निषाद व गोपाल निषाद ने ताल के अंदर डूब रहे सभी को बचाने में जुट गये। सुमन्त ने बताया कि सुरहताल के बीच से नाव के डूबने पर निकल रही लोगों की चीख से एक बारगी उन्हें कुछ समझ में नहीं आया कि वे क्या करें। लेकिन, जान को जोखिम में डालकर लोगों को बचाने में जुट गये। इन सभी जाबाज युवकों की तत्परता का ही नतीजा था कि छः युवकों को पानी से बाहर निकाल लिया। लेकिन दो को न बचा पाने का दर्द इनके आखों में साफ साफ दिख रहा था। वहींं चार की स्थिति खतरे से बाहर है।बेरुआरबारी के सुरहताल इस समय लोगोंं के लिए काल बन गया। अब से विगत छह माह पूर्व मैरिटार निवासी सुर्दशन बिंद (55) वर्ष नहर के पास गहरे पानी मे जाने से डूबकर मौत हो गयी। मैरिटार निवासी परमेश्वर बिंद (56) की 27 जनवरी 2021 की मौत मछली पकड़ते समय नाव से फिसलकर डूबने से मौत हो गई। वहींं क्षेत्र के शिवपुर निवासी आनन्द चौहान (22) वर्ष पुत्र राजेन्द्र चौहान 12 अक्टूबर 2019 को घूमने के लिए सुरहताल में गया था । जहां अचानक नाव से गिरकर मौत हो गई ।

बलिया से अन्य समाचार व लेख

» बलिया में सरस्वती प्रतिमा विसर्जन के दौरान हाईटेंशन तार की चपेट में आने से दो युवकों की मौत, एक झुलसा

» बलिया में 16 लाख रुपये लोन के लालच में गंवाए आठ लाख

» बलिया में तेज रफ्तार ट्रक एक दर्जन लोगों को रौंदने के बाद पलटा, आधा दर्जन घायल

» बलिया में फेसबुक पर लाइव होकर प्रेमी युगल ने खाया जहर

» बलिया जेल तोड़कर फरार बदमाश बेचू पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

 

नवीन समाचार व लेख

» एमएलसी अरविंद यादव के गनर ने की गोली मारकर खुदकशी

» बागपत में छह साल की मासूम की हत्या कर शव को खेत में छिपाया

» कौशांबी मे बेवफाई से आहत युवती ने खत्म की जिंदगी, फरेबी युवक पर मुकदमा

» जौनपुर में प्रेमिका की गोद भराई में दिल्ली से आकर पेट में घोंप लिया चाकू

» भदोही में ईयरफोन लगाकर रेलवे ट्रैक पर चल रहे युवक की ट्रेन की चपेट में आने से मौत