यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बलरामपुर में पांच अध्यापक निलंबित-जांच के आदेश


🗒 मंगलवार, अप्रैल 05 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बलरामपुर में पांच अध्यापक निलंबित-जांच के आदेश

बलरामपुर, । 68500 भर्ती के तहत जिले में तैनात दूरदराज जनपद के शिक्षकों को याची लाभ दिलाने के नाम पर टेलीग्राम ग्रुप पर धनउगाही करना पांच अध्यापकों को महंगा पड़ गया। शिक्षा क्षेत्र गैंड़ासबुजुर्ग के प्राथमिक विद्यालय सहंगिया के शिक्षक माधव कृष्ण, प्रावि जंगाडीह के आलोक पांडेय, प्रावि मझारी के दुर्गेश कुमार शुक्ल, प्रावि जिगना खास के मनीष दत्त शुक्ल व उतरौला के प्रावि बनघुरा के शिक्षक अंकुर दीक्षित को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निलंबित कर दिया है। खंड शिक्षा अधिकारी घनश्याम वर्मा, राजेश कुमार, राम कुमार, सतीश कुमार व अरुण वर्मा को 15 दिन के अंदर जांच करने के निर्देश दिए हैं।बीएसए डा. रामचंद्र ने बताया कि बेसिक शिक्षा परिषद प्रयागराज के कर्मचारी ने दूरभाष से अवगत कराया कि जिले में कुछ शिक्षक इंटरनेट मीडिया पर ग्रुप बनाकर 68500 भर्ती के शिक्षकों को मेरिटोरियल रिजर्व कटेगरी (एमआरसी) के अंतर्गत याची लाभ दिलाने के नाम पर 5000 रुपये अनाधिकृत रूप से उगाही कर रहे है। धनउगाही के संबंध में साक्ष्य भी वाट्सएप पर उपलब्ध कराए गए। प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए जांच की गई, जिसमें शिक्षक माधव कृष्ण को 68500 पुनर्जिला आवंटन एवं 68500 आवंटन पीड़ित लेफ्ट कैंडीडेट नामक ग्रुप का एडमिन पाया गया।इस ग्रुप पर शिक्षकों से स्टेट बैंक आफ इंडिया के बचत खाता संख्या 34433341185 पर पांच हजार रुपये की मांग की गई है। इसी तरह अन्य चारों शिक्षकों की भी ग्रुप पर अध्यापकों से धनउगाही की पुष्टि हुई। इससे विभाग की क्षवि धूमिल हुई है। बताया कि माधव कृष्ण को बीआरसी गैंसड़ी, आलोक पांडेय को बीआरसी तुलसीपुर, अंकुर दीक्षित को बीआरसी उतरौला, दुर्गेश शुक्ल को बीआरसी हर्रैया सतघरवा व मनीष दत्त शुक्ल को बीआरसी पचपेड़वा में संबद्ध किया गया है। पांचों बीईओ को जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया है।