यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

भीषण अग्‍न‍िकांड में राख हुए 34 आश‍ियाने


🗒 मंगलवार, अप्रैल 05 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
भीषण अग्‍न‍िकांड में राख हुए 34 आश‍ियाने

बलरामपुर, । हर्रैया सतघरवा क्षेत्र के मोतीपुर कला गांव निवासी अलखराम के फूस के मकान में मंगलवार की शाम अज्ञात कारणों से लगी आग ने 34 घरों को नष्ट कर दिया। अग्निकांड में 10 बकरियां झुलसकर मर गईं हैं। आग बुझाते समय गांव निवासी गोली गंभीर रूप से झुल गया है। उसका इलाज निजी चिकित्सालय में कराया जा रहा है। अग्निशमन कर्मियों व ग्रामीणों ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। अग्निकांड पीड़ित परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं।बताया जाता है कि मंगलवार की शाम ग्रामीण अपने रोजमर्रा के कार्यों में व्यस्त थे। इसी बीच अलखराम के फूस के मकान में अज्ञात कारणों से आग लग गई। आग की तेज लपटों ने दान बहादुर, भोले, सियाराम, अमिरका प्रसाद, भैयाराम, मुंशीलाल, गोरेलाल, तिलकराम, मनोज कुमार, विश्वनाथ, धर्मराज, गंगाराम, काशीराम, श्रवण कुमार, रामसागर, गोली, रामचंद्र, तुलसीराम, बाबूराम, ननकू वर्मा व बड़का समेत 34 लोगों के मकान को अपनी चपेट में ले लिया। घारी में बंधी अलखराम की आठ व बड़का की दो बकरियां झुलसकर मर गईं।गांव में आग का गोला उठता देख चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। जिसे जो बर्तन मिला, उसमें पानी भरकर आग बुझाने के लिए दौड़ पड़ा। आग बुझाने के प्रयास में गोली गंभीर रूप से झुलस गया, जिसे निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। फायर सर्विस प्रभारी मनोज कुमार मिश्र, फायरमैन अभय पांडेय, अखिलेश यादव व मनोज कुमार ने ग्रामीणों की मदद से आग पर काबू पाया।अग्निकांड में दान बहादुर का पंपिंग सेट, चारा मशीन व दो साइकिल नष्ट हो गई। अग्निकांड पीड़ितों की गृहस्थी का सारा सामान आग की भेंट चढ़ गया। लेखपाल हरिश्चंद्र सिंह ने बताया कि क्षति का आकलन कर रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी। पीड़ितों को शीघ्र ही सहायता राशि उपलब्ध कराई जाएगी। एसडीएम सदर राजेंद्र बहादुर ने बताया कि पीड़ितों को तत्काल सहायता मुहैया कराने के निर्देश दिए गए हैं।