यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

विद्युत विभाग केंद्र बदौसा के एसएसओ की लापरवाही आयी सामने


🗒 मंगलवार, सितंबर 10 2019
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड

बांदा-विद्युत विभाग केंद्र बदौसा के एसएसओ की लापरवाही आयी सामने।फतेहगंज क्षेत्र मे शट डाउन होने के बाद खम्भे में चढ़ लाइन सही कर रहे संविदा कर्मचारी के बिना जानकारी लाईन चालू होने से हादसा होने से बचा।

विद्युत विभाग केंद्र बदौसा के एसएसओ की लापरवाही आयी सामने

मंगलवार शाम 04 बजे ग्राम बाघोलन के ग्रामीणों ने विद्युत तार टूटने की जानकारी की सूचना बदौसा केंद्र में दी।सूचना पर पहुंचे ग्राम अमिलिहा निवासी संविदा लाईनमैन रामकिशोर पटेल लाईन सही करने पहुंच बदौसा फीडर में तैनात एसएसओ राजनारायण कुशवाहा से 16:40 में शटडाउन लेकर जैसे ही खम्भे में चढ़ने लगा।तभी लाइन मैन को बिना सूचित किये अचानक लाईन चालू कर दी गई। खम्भे में लगे बॉटम के तारों से चिंगारियां निकलने पर लाइन आधे खम्भे से कूद अपनी जान बचाई। खम्भे से कूदने पर लाइन मैन को खरोंच व मामूली चोटें ही आयी हैं। लाइनमैन ने बताया कि पूर्व में भी एसएसओ की गलती से एक लाइनमैन की जान जा चुकी हैं। तब एसएसओ का तबादला कालिंजर फीडर कर दिया गया था,लेकिन चार माह पूर्व पुनः तैनाती बदौसा कर दी गयी।

इन्द्रप्रसाद त्रिपाठी अतर्रा बाँदा

बांदा से अन्य समाचार व लेख

» आर्थिक जनगणना की ट्रेनिंग हुई संपन्न

» बाँदा मे प्रेमिका ने साथ चलने से किया इन्कार तो युवक ने खुद को मार ली गोली

» बाँदा मे रक्षाबंधन पर मायके आई प्रेमिका ने प्रेमी के साथ दी जान, रेलवे ट्रैक पर पड़े मिले शव

» बाँदा मे कार से भिड़ी रोडवेज बस, चित्रकूट से लौट रहे चार श्रद्धालुओं की मौत

» बांदा में एकतरफा प्रेम में युवक ने सनक की लांघ दी सीमा, मां और बेटी की हत्या कर खुद को मारी गोली

 

नवीन समाचार व लेख

» नए रास्ता समझौता के कागज पर मोहर ना लगने से बरहड़ा बरईपार के तजियदारो ने ताजिया उठाने से किया मना

» आस्ट्रेलिया का फर्जी बीजा व एयर टिकट के आरोप में मुकदमा दर्ज

» अब काशी अनाथालय में बच्ची को चिमटा से दागने की घटना की जांच करेगी कमेटी

» वाराणसी मे इनामी झुन्ना पंडित के गुर्गों की तलाश में दबिश, पांच शरणदाता गिरफ्तार

» लखनऊ स्थित इमामबाड़ा नाजिम साहब में गमगीन माहौल में निकला दसवीं मुहर्रम का जुलूस