यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अतर्रा -भारत लॉक डाउन होने के बाद भी निजी वाइके व टैम्पो में 8 लोग निकले, सीओ ने ड्राइवर पर बरसाई लाठियां


🗒 बुधवार, मार्च 25 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड

आपातकाल में मोटरसाइकिल पर एक से दूसरी सवारी नही होनी चाहिए

अतर्रा -भारत लॉक डाउन होने के बाद भी निजी वाइके व टैम्पो में 8 लोग निकले, सीओ ने ड्राइवर पर बरसाई लाठियां

● किसी भी समस्या के लिए डायल करे 112 मिलेगी  हर सम्भव मददत

 

संवाददाता इन्द्रप्रसाद त्रिपाठी

अतर्रा (बांदा) कोरोना वायरस की संक्रामक महामारी विमारी से बचने के लिए देश के प्रधानमंत्री ने पूरे भारत को 21 दिनों के लिए लॉक डाउन कर दिया है। जनता को जागरूक करने के बाद भी घरों से निकलने को नही मान रहे है। जिनको पुलिस प्रशासन रोककर समझा रही है और साथ ही आग्रह भी कर रही है कि कोई भी ब्यक्ति अपने घरों से न निकले। वही चैराहे पर पुलिस प्रशासन बैरिकेडिंग लगाकर लोगो को जागरूक करते हुए घर मे रहने की सलाह दे रहे थे कि उसी बीच एक निजी टैम्पो सवारियों से भरा हुआ गुजर रहा था तब क्षेत्राधिकारी त्रिवेणी प्रसाद द्विवेदी ने टैम्पो चालक को नीचे उतार कर उस पर लाठियां बरसा दी। दुबारा सड़क पर न दिखने की हिदायत देते हुए जाने दिया।

                 बुधवार के दिन से 14 अप्रैल तक के लिए कोरोना वायरस के बढ़ते क्रम को रोकने के लिए भारत के प्रधानमंत्री ने देश को लॉक डाउन कर दिया है। टीवी चैनलों, अखबारों सहित शोशल मीडिया के माध्यमों से लोगो को जागरूक किया जा रहा है और साथ ही घरों से न निकलने का लोगो से आग्रह भी किया जा रहा है। लेकिन इसके बावजूद भी लोग मानने को तैयार नहीं है। भारत मे निवास करने वाली हर एक ब्यक्ति को इस बड़े संकट में सरकार का सहयोग करना चाहिए। लोगो के न मानने पर पुलिस ने भी सख्ती अपना लिया है। नगर के चौराहे पर उपजिलाधिकारी सौरभ शुक्ला, क्षेत्राधिकारी त्रिवेणी प्रसाद द्विवेदी, थानाप्रभारी रवीन्द्र कुमार तिवारी,एसएसआई वीर प्रताप सिंह ने पुलिस बल के साथ बैरिकेडिंग लगाकर लोगो को घरों में रहने की सलाह दे रहे है। गुजरने वाली साइकिलों,वाइको, सहित चार पहिया वाहनों की जांच पड़ताल की जा रही है। वाइको में चालक के पीछे बैठे लोगों को न बैठने की अपील कर रहे है। आपातकालीन ड्यूटी में लगे लोग वाईक में केवल अकेले ही चले। सीओ ने लोगो से कहाँ की घर निकलने से पहले संबंधित थाने में सूचना दे कि आपको किस समस्या के लिए बाहर निकलना पड़ रहा है। राशन सामग्री,फल,दूध की दुकानों में भीड़ न लगाये। आवश्यकताओ की पूर्ति के लिए घर से केवल एक ब्यक्ति ही निकले और सामग्री लेकर सीधे घर जाए।

बांदा से अन्य समाचार व लेख

» बांदा-22 मार्च को देश बंदी का दिख रहा असर

» बांदा सांसद ने घर पर खुद को किया आइसोलेट

» बांदा- सीओ अतर्रा ने अपील कि अतिक्रमण हटाये

» बांदा -खेत जा रहे बच्चे को बाइक ने मारी टक्कर

» बांदा -भवन निर्माण करते मजदूर से हाईटेंशन लाइन सरिया छूने से मजदूर चिपका इलाज जारी है

 

नवीन समाचार व लेख

» कोरोना वायरस मे बंदी के नाम पर व्यापारियो ने मचाया लूट ।

» कलश स्थापना के साथ वासंतिक नवरात्र 25 मार्च से शुरू

» लॉकडाउन का अगला सख्त कदम कर्फ्यू, अपील का पालन न करने वालों पर होगा एक्शन

» देश में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित के लिए 15 हजार करोड़ रुपये का किया गया प्रावधान

» आज रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन, घर से निकलने पर पूर्ण पाबंदी