यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बांदा-सहकार ही मानव जीवन का संस्कारः दिनेश दीक्षित


🗒 बुधवार, सितंबर 23 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
बांदा-सहकार ही मानव जीवन का संस्कारः दिनेश दीक्षित


क्रासरः सहकार भारती के संस्थापक लक्ष्मण राव की मनाई जयंती
फोटो 4ःप्रतिमाओें पर माल्यापर्ण करते दिनेश दीक्षित।

बाँदा। सहकार भारती के संस्थापक श्रधेय लक्ष्मण राव ईमानदार जी की जयन्ती बाँदा अर्बन कोआपरेटिव बैंक के मुख्यालय में आयोजित करते हुए मुख्य अतिथि के रूप में सहकार भारती बैंकिंग प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष दिनेश दीक्षित द्वारा दीप प्रज्ज्वलन व उनकी प्रतिमा पर माल्यापर्ण करते हुए सम्पन्न किया गया। समारोह में दिनेश दीक्षित द्वारा ईमानदार राव जी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा, मानव जीवन के मापदंड सदैव से उंसके समाज से तय होते है, समाज को व्यवस्थित करने का केवल मात्र रास्ता सहकारिता है. सहकार ही मानव जीवन का संस्कार हो जाना जीवन को ऊर्जावान बनाये रखना है। सहकार भारती के जिला अध्यक्ष शिवचरण शुक्ला जी ने कहा, सहकारिता का उद्देश्य समान भाव से मानव द्वारा मानव की सेवा है, विभाग संयोजक प्रेम सागर दीक्षित ने सहकारिता को सामाजिक कुचक्रों से मानव को मुक्तिबोध का मार्ग बताया. प्रमुख राकेश राठौर ने मानव द्वारा एकत्रित संसाधनो को सामुहिक रूप से मानव के हितों को समर्पित करते हुए जीवन यापन करना सहकारिता का ध्येय है. समारोह में सहकारिता को अपने जीवन का लक्ष्य बना कर मानव सेवा में जीवन अर्पित करने वाले समाजसेवी अमित सेठ भोलू, पत्रकारिता से शिव कुमार बड़कू व सचिन चतुर्वेदी को अंग वस्त्र व सम्मान दे कर संस्था की ओर से सम्मानित किया गया. समारोह में मुख्य रूप से अखिलेश अवस्थी, आर0डी0 मिश्रा, राजेश सेन, सुनील दीक्षित, राजेन्द्र यादव, श्याम निगम आदि लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन कार्यालय प्रमुख रोहन सिन्हा द्वारा किया गया।