यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बांदा-संविदा कर्मियों ने किया आधे दिन का प्रदर्शन


🗒 शनिवार, नवंबर 21 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
बांदा-संविदा कर्मियों ने किया आधे दिन का प्रदर्शन


बांदाः एड्स नियंत्रण संविदा कर्मियों ने अपने अपने कार्यस्थलों पर वेतन पुनरीक्षण एवं शोषण के विरोध में काला फीता बांधकर धरना प्रदर्शन किया।
आल इंडिया एड्स कंट्रोल एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन के आवाहन पर एड्स नियंत्रण संविदा कर्मियों ने अपने अपने कार्यस्थलों पर वेतन पुनरीक्षण एवं शोषण के विरोध में काला फीता बांधकर आधा दिन का धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान संगठन के चेयरमैन संजीव मिश्रा ने बताया कि बीते दो तीन सालों से संविदाकर्मी राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन नाको से लगातार वेतन पुनरीक्षण की मांग कर रहे है। लेकिन नाको द्वारा सिर्फ वरिष्ठ चिकित्साधिकारियों एवं चिकित्साधिकारियों का मानदेय पुनरीक्षण किया गया है। शेष संविदा कर्मियोें का वेतन पुनरीक्षण नहीं किया गया है। जिसके विरोध स्वरूप संविदा कर्मी धरना प्रदर्शन कर रहे है। कहा कि शीध्र ही मांगों को नहीं माना गया तो आगामी एक दिसंबर विश्व एड्स दिवस के अवसर पर समस्त संविदा कर्मी राज्य एड्स नियंत्रण समिति मुख्यालयों तथा नाको मुख्यालय के समक्ष धरना प्रदर्शन कर काला दिवस के रूप में मनायेंगे। साथ ही संविदा कर्मी इस संबंध में उच्चतम न्यायालय की शरण में जाने के लिए बाध्य होंगे।

 

बांदा से अन्य समाचार व लेख

» बांदा -तिहरे हत्याकांड में पन्द्रह नामजद और नौ आरोपी गिरफ्तार छै आरोपी फरार

» बांदा-अरबों की सरकारी जमीन को भू-माफियाओं ने लगाया ठिकाने

» बांदा-अरबों की सरकारी जमीन को भू-माफियाओं ने लगाया ठिकाने

» बांदा-छात्रों पर भारी पड़ रहा विद्यालय का तुगलकी फरमान

» बांदा-मीडिया प्रभारी ने छोड़ी जनअधिकारी पार्टी

 

नवीन समाचार व लेख

» महोबा-भगवान इन्द्र पहुंचे गोवर्धन नाथ जू महाराज से क्षमा याचना करने

» महोबा-पालिकाध्यक्ष ने दिखाई मानवता, सर्दी से कांप रही महिला को ओढ़ाया कंबल

» महोबा-पीएम कृषि सिंचाई योजना अन्नदाताओ के लिए अत्यंत लाभकारी: डीएम

» बांदा -तिहरे हत्याकांड में पन्द्रह नामजद और नौ आरोपी गिरफ्तार छै आरोपी फरार

» बांदा-अरबों की सरकारी जमीन को भू-माफियाओं ने लगाया ठिकाने