यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बांदा-क्षय रोग से पीड़ित वृद्ध फांसी पर झूला, मौत


🗒 सोमवार, नवंबर 30 2020
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
बांदा-क्षय रोग से पीड़ित वृद्ध फांसी पर झूला, मौत


क्रासरःकमासिन थाना क्षेत्र के मुसींवा गांव की घटना

कमासिन/बांदा। खुद की बीमारी से ऊबकर 62 वर्षीय वृद्ध ने अपने ही खेत में बबूल के पेड़ से लटक कर फांसी लगा ली। मृतक क्षय रोग से काफी दिनों से पीड़ित था। इलाज के लिए लड़कों में आपसी खींचतान होने की वजह से वृद्ध ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। विभिन्न गांवों में एक सप्ताह में यह तीसरी फांसी की घटना है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
थाना क्षेत्र अंतर्गत मुसींवा गांव निवासी भूरा साहू पुत्र होरीलाल ६२ साल क्षय रोग से लंबे समय से पीड़ित था। जिसका इलाज सरकारी अस्पताल में चल रहा था। परिजनों के अनुसार सरकारी दवाओं का भूरा साहू के इलाज पर कोई असर नहीं हो रहा था। स्वास्थ्य ठीक होने की वजह से भूरा मानसिक रूप से विक्षिप्त सा हो गया था। यही भूरा की मौत का कारण बना। मृतक भूरा के लड़के राजेश ने बताया कि वह चार भाई है। जो तीन पुणे में रहकर मेहनत मजदूरी का काम करते हैं। तीन भाई शादीशुदा है। तथा राजेश खुद कर्वी में ट्यूशन पढ़ाकर किसी तरह से गुजर बसर करता है। घर में महज 6 बीघे जमीन है। जो कि चार भाइयों के जीवन यापन के लिए नाकाफी है। तीन भाइयों की बाहरी कमाई से ही गरीबी हालत में परिवार का जीवन यापन होता है। आर्थिक तंगी की वजह से पिता के इलाज कराने में परेशानी हो रही थी। महज सरकारी अस्पताल की दवाओं पर ही पिता का इलाज संभव हो पा रहा था। सरकारी अस्पताल की दवाई भी कारगर नहीं हो पा रही थी। इन्हीं सब कारणों से भूरा साहू जीवन लीला समाप्त करने के लिए मजबूर हो गया। बता दें थाना क्षेत्र के एक सप्ताह के अंतर्गत यह तीसरी फांसी की घटना है। कुमेढा, जोरावरपुर में एक- एक तथा मुसींवा गांव की दूसरी घटना है। मौत की खबर से मृतक की पत्नी सुमित्रा का रो रो कर बुरा हाल है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्यवाही कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

 

 

 

बांदा से अन्य समाचार व लेख

» अतर्रा-मौसम के बदलते मिजाज से किसान परेशान

» बांदा-रिश्तदारों से ही महफूज नही हैं महिलाएंः सबीना

» बांदा-पड़ोसी युवक की छेड़खानी की शिकायत

» बांदा-पंचायत चुनाव में बढ़चढ़कर भागीदारी करें विश्वकर्मा समाजः केपी विश्वकर्मा

» बांदा-पुलवाना के शहीदों के बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकताः सांसद

 

नवीन समाचार व लेख

» अतर्रा-मौसम के बदलते मिजाज से किसान परेशान

» जनपद के सभी थानों के चालानी रिपोर्ट व गिरफ्तार व्यक्तियों को एक ही मजिस्ट्रेट के यहां प्रस्तुत किए जाने की रिमांड मजिस्ट्रेट की व्यवस्था समाप्त

» फर्रुखाबाद में मरीज दिखाने के नाम पर ठगे 22,500 रुपये

» स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एक्सप्रेस के पैंट्रीकार में मिला नोटों से भरा बैग

» किशोर न्याय बोर्ड से अमर दुबे की पत्नी नाबालिग घोषित, 23 फरवरी को होगी जमानत पर सुनवाई