यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बांदा-बुन्देलखण्ड में कृषि की बेहद संभावनाएंः सीडीओ


🗒 बुधवार, फरवरी 24 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
बांदा-बुन्देलखण्ड में कृषि की बेहद संभावनाएंः सीडीओ


- दो दिवस शैक्षणिक भ्रमण यात्रा को सीडीओ ने दिखाई हरी झण्डी
- 25 सदस्यों को भ्रमण दल जबलपुर के लिए हुआ रवाना

बांदा। दो दिवसीय शैक्षणिक भ्रमण यात्रा को लेकर किसानों को सीडीओ ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक नाबार्ड के सहयोग से एफपीओ के 25 शेयर सदस्य का दो दिवसीय शैक्षणिक एवं तकनीकी भ्रमण पंडित जैन डिग्री कालेज नेहरू विद्यालय से जवाहरलाल नेहरू कृषि विद्यालय जबलपुर के लिए प्रस्थान किए गए।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी हरीश चंद्र वर्मा ने किसानों को संबोधित करते हुए बुंदेलखंड में कृषि की बेहद संभावनाएं हैं एवं आयोजनों से किसानों को तकनीकी जानकारी मिलती है जिससे किसानों तकनीक अपनाकर अपना उत्पादन बढ़ाए, कार्यक्रम अवसर पर उप कृषि निदेशक आरके माथुर ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार 20 22 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए भरसक प्रयास कर रही है साथ ही साथ हम सभी लोग प्रयास करेंगे कि निश्चित रूप से सफलता मिलेगी, इसलिए किसान साथियों से मेरा अनुरोध है कि भृमण यात्रा के दौरान प्रयोग होने वाले आधुनिक तकनीक ज्ञान को सीखने का प्रयास करें ताकि वहां से लौटने के उपरांत अपने गांव में उस प्रयोग को सार्थक बनाएं ताकि हम सबका प्रयास सफल होगा।कार्यक्रम में उपस्थित डीडीएम नाबार्ड ने किसानों को संबोधित करते हुए बताएं कि एसपीओ के सभी किसान भाई जबलपुर कृषिविद्यालय में आधुनिक तकनीक को सीखकर आए ।
जिससे अपने गांव व कृषि में प्रयोग करें तथा उन्होंने कहा कि किसी तकनीकी की जानकारी पूरे मनोयोग से सीख कर आए उनका प्रयोग कृषि विकास में ताकि उनकी आय में इजाफा हो सके । इस दौरान प्रमोद कुमार जिला कृषि अधिकारी, संजीव कुमार बघेल, राजीव आनंद, एके द्विवेदी क्षेत्रीय प्रबंधक ,आरपी वर्मा निर्देशिक आरसेठी, आरके माथुर वीके त्रिपाठी आदि लोग उपस्थित रहे।