यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुख्तार से जेल में मिले पत्नी व बेटे


🗒 बुधवार, सितंबर 08 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मुख्तार से जेल में मिले पत्नी व बेटे

बांदा,  पत्नी व बेटे ने माफिया मुख्तार से मंडल कारागार में मुलाकात की। इस बीच दोनों स्वजन ने माफिया की सुरक्षा व स्वास्थ्य के बारे में चर्चा की। काफी देर तक आपस में उनके बीच गुफ्त गू चलती रही। हालांकि सुरक्षा को लेकर सीसीटीवी कैमरे सक्रिय रहे हैं।पूर्वांचल का माफिया मुख्तार छह अप्रैल को पंजाब की रूप नगर जेल से बांदा मंडल कारागार स्थानांतरित किया गया था। उसके यहां आने के बाद से जेल की सुरक्षा व्यवस्था हाईटेक कर दी गई है। कोरोना संक्रमण काल में जहां मिलाई पर रोक लगी थी। वहीं अब जेल मेनुअल के हिसाब से बंदियों से सप्ताह में दो बार व कैदियों से पखवाड़े में एक बार मुलाकात कराई जा रही है। इसी के तहत बुधवार को माफिया की पत्नी अफसमां व बेटा उमर मंडल कारागार मिलाई करने पहुंचे। वहां उन्होंने अपनी-अपनी आरटीपीसीआर निगेटिव दिखाई। जिसके बाद उन्हें सुरक्षा व्यवस्था के बीच से होकर अंदर मुलाकात स्थल तक पहुंचाया गया।सूत्रों की मानें तो करीब आधा घंटे तक माफिया की पत्नी व बेटे से मुलाकात कराई गई है। जिसमें राजीखुशी जानने के साथ बीमारी के संबंध में पत्नी व बेटे ने जानकारी की है। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी उनके बीच में चर्चा होती रही है। मिलाई के समय सुरक्षा की कड़ी निगरानी रही। सीसीटीवी कैमरे भी सक्रिय रहे हैं। जेल अधीक्षक अरूण कुमार ने कई बार फोन लगाने के बाद भी रिसीव नहीं किया है।दरअसल, हाल ही में स्पेशल कोर्ट एमपी एमएलए में माफिया मुख्तार अंसारी की पत्नी अफशां व बेटे उमर ने अर्जी देकर आरोप लगाया था कि जेल प्रशासन द्वारा मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है। बैरक से लेकर बाथरूम तक सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जिससे मुख्तार को परेशानी हो रही है। प्रवेश द्वार व कैमरों के फुटेज मंगवाकर जांच की जाए। इसको लेकर जेल प्रशासन के पास न्यायालय की तरफ से एक पत्र भी भेजा गया है।