यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रेमी संग गई किशोरी के लौटते ही पिता ने दी मौत


🗒 रविवार, सितंबर 19 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रेमी संग गई किशोरी के लौटते ही पिता ने दी मौत

बांदा, । प्रेमी के साथ मुंबई भागी किशोरी के लौटने के बाद पिता ने उसे खौफनाक तरीक से सजा दी। कोतवाली क्षेत्र के सिमौनी गांव में हुई आनरकिलिंग की सनसनीखेज घटना के बाद वह भाग निकला। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक बेटी के जाने के बाद से वह कुछ परेशान रहने लगा था कि, लेकिन बेटी के लौटने पर वह इस तरह का सलूक  करेगा इसकी किसी ने भी कल्पना नहीं की थी।तिंदवारी कस्बे के एक गांव निवासी अधेड़ ने दो शादियां की थी। पुलिस के मुताबिक उसकी पहली पत्नी फतेहपुर जनपद के कोतवाली नगर क्षेत्र के एक गांव में रहती है। उसके साथ ही 17 वर्षीय बेटी भी रहती थी। जनवरी में वह अपने मुंबई निवासी एक रिश्तेदार मोहम्मद यासीन के साथ प्रेम प्रसंग में शिवाजी नगर मुंबई चली गई थी। पिता ने कोतवाली फतेहपुर में आरोपित के विरुद्ध बहला-फुसलाकर अगवा करने का मुकदमा दर्ज कराया था। फतेहपुर कोतवाली की पुलिस ने छह सितंबर को उसे मुंबई से सकुशल ढूंढ़ निकाला था। साथ ही आरोपित मोहम्मद यासीन को जेल भेजा था। बाद में पिता किशोरी को अपने साथ तिंदवारी कस्बा क्षेत्र स्थित अपनी दूसरी पत्नी के पास ले आया था। पुलिस के मुताबिक प्रत्यक्षदर्शियों से पता चला है कि रविवार शाम वह बेटी को मुंबई जाने की बात को लेकर पीटते हुए गांव की गडऱा नदी ले गया। वहां उसे पानी में डुबोकर पीटता रहा। बाद में नदी के इस पार बबेरू कोतवाली क्षेत्र के सिमौनी गांव के कालका मंदिर से करीब 50 मीटर की दूर पीटने के साथ गला दबाने का प्रयास करता रहा। राहगीरों ने सिमौनी पुलिस चौकी में सूचना दी लेकिन जब तक पुलिस मौके पर पहुंची, आरोपित उसे गंभीर रूप से घायल कर भाग निकला। पुलिस उसे टेंपो से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) बबेरू ले जा रही थी। रास्ते में उसकी मौत हो गई। बबेरू कोतवाली प्रभारी नागेंद्र कुमार नागर ने बताया कि सूचना देने वाले ग्रामीणों ने पीट रहे आरोपित को किशोरी का पिता बताया है। मामला आनर किङ्क्षलग का ही लग रहा है। आरोपित को पकडऩे के लिए दबिश दी जा रही है।