यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दबंगों के भय से पलायन को मजबूर हुआ परिवार


🗒 गुरुवार, सितंबर 23 2021
🖋 रजत तिवारी, बुंदेलखंड सह संपादक बुंदेलखंड
दबंगों के भय से पलायन को मजबूर हुआ परिवार


क्रासरःपीड़ितों ने एसपी से लगाई न्याय की गुहार
बांदा। प्रदेश की योगी सरकार में दबंगों की दबंगई सत्ता के सरंक्षण के चलते सिर चढ़कर बोल रही। इन दबंगों के हौंसले इतने बुलंद हो चुके हैं कि इनके भय से लोग अपना घर-बार छोड़कर पलायन को मजबूर हो चुके हैं। पीड़ितों ने पुलिस अधीक्षक से फरियाद करते हुए दबंगों से निजात दिलाने की बात कही है।
जानकारीर के अनुसार ग्राम बल्लान थाना अतर्रा जनपद बांदा के मजदूर किसान व कमजोर जाति के विश्वकर्मा समाज के गरीब तबके मजदूर ने एसपी को दिये ज्ञापन में बताया कि उन्होंने बताया 21 सितंबर 2021 के रात्रि के बीच घटना है गांव का बड़ा दुबे पुत्र राम अवतार दारू पीकर गाली गलौज परिवार को दे रहा था। गाली देने से मना करने पर बड़े दुबे के दोनों लड़के आ गए और गाली-गलौज कर जान से मारने और देख लेने की धमकी दी , इसी से रंजिश मान बैठे लड़का लक्ष्मी अतर्रा से बल्लान गांव दिनांक 22 सितंबर 2021 रात में आ रहा था तो पहले से जान से मारने की घात लगाए बैठा था दुबे तथा उसके दोनों लड़कों ने मारने को दौड़ाया तो पीड़ित का लड़का लक्ष्मी गाड़ी छोड़कर घर की ओर दौड़ पड़ा और घर के अंदर आ गए दबंग ठाकुर जाति के लोग मोहन सिंह पुत्र अमर सिंह हनी सिंह अतुल सिंह पुत्र बुद्धा सिंह पप्पू सिंह पुत्र बेटा सिंह राजा सिंह बेटा सिंह अनिल दुबे पुत्र ओमकार कल्लू सिंह पुत्र स्वराज सिंह रमपुरहाई बेवा और मोहन सिंह यह दोनों अवैध शराब बनाकर गांव में बेचते हैं और इस को सभी लोग संरक्षण देते हैं सभी लोग कुल्हाड़ी तमंचा , फरसा आदि लेकर आए और कैलाश सिंह अपनी बंदूक लेकर गाली गलौज देता रहा है और कहा कि मैं अपनी बंदूक से दरवाजा फाड़ दूंगा और साथ में चार-पांच लोग अज्ञात थे। घर के अंदर घुस जाओ और औरतों को निर्वस्त्र करके बाहर निकालो घर में ईट पत्थर फेंकने लगे तथा जबरजस्ती से दरवाजा तोड़कर अंदर घुसने की कोशिश कर रहे थे तभी मैने 112 नंबर फोन किया काफी देर तक फोन लगा तब मैंने अपने जिलाध्यक्ष विश्वकर्मा महासभा को फोन किया तब जाकर पुलिस आई तो पीड़ित परिवार ने बताया कि दबंग लोग चोरी छुपे शराब बना कर बेचते हैं अवैध धंधा करते हैं , पूरे परिवार के लोग बहुत डरे सहमे हैं और परिवार के सब लोगों की जान का खतरा है कभी भी जान से मार सकताहै पीड़ित का लड़का लक्ष्मी अभी भी थाने में बंद है और विपक्ष को नहीं पकड़ा गया वह पीड़ित परिवार गांव छोड़ने पलायन करने को मजबूर हो गए हैं पुलिस अधीक्षक से हमारी मांग है की हमारी जान माल की रक्षा सुरक्षा किया जाये व दबंगो व्यक्तिओ के ऊपर मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करे।

 

 

बांदा से अन्य समाचार व लेख

» उपजिलाधिकारी नरैनी अवधेश निगम द्वारा निरीक्षण कियागौ शालाकानिरीक्षण

» खेलो इण्डिया के तहत हार्पर क्लब में होगी शूटिंग

» चारा काट रहे अधेड़ को दबंग पिता व पुत्र ने हँसिया से किया हमला

» समाजवादी पार्टी की सरकार बनी तो दो हज़ार रुपए मिलेगी पेंशन

» समाजवादी पार्टी की सरकार बनी तो दो हज़ार रुपए मिलेगी पेंशन